Ad

style="width:640px;height:100px;" alt="ads" /> ads

Breaking News

चौरसिया महासभा ने निकाला कैंडिल मार्च


...रिपोर्ट- रत्नम चौरसिया, एडवोकेट।
पुरवा/उन्नाव। चौरसिया महासभा जिलाध्यक्ष के नेतृत्व में ब्लाक रोड़ से तहसील परिसर तक शनिवार सायं शहीदों   की स्मृति में शांति मार्च निकाला गया। इस पद यात्रा में  दर्जनों लोग शामिल हुए।
प्राप्त विवरण के अनुसार चौरसिया महासभा उन्नाव के जिलाध्यक्ष शिवम चौरसिया के नेतृत्व में पुलवामा में शहीद हुए जवानों की स्मृति में कैंडिल मार्च   ब्लाक रोड़ से तहसील परिसर तक निकाला गया। तहसील परिसर में समापन करने से पहले अमर शहीदों को दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। जनपद के शहीद जवान अजीत कुमार आजाद को याद करके जिलाध्यक्ष भावुक हो गये। उन्होंने कहा कि इस शहादत का बदला सरकार को तुरंत लेना चाहिए। पूरा देश आतंकियों के इस कृत्य की निन्दा करता है और मन में आक्रोश व्याप्त है। उन्होंने कहा कि जगह जगह  हो रहे विरोध प्रदर्शन इस बात का प्रमाण है कि पूरे भारतवासियों में क्रोध व्याप्त है। इस अवसर पर तहसील अध्यक्ष रत्नम चौरसिया एडवोकेट, महामंत्री लवकुश चौरसिया, सतीश चौरसिया, शुभम चौरसिया, अनुपम चौरसिया, हिलौली अध्यक्ष कुलदीप चौरसिया के अलावा अभिजीत, गौरव शर्मा, विशाल, रिषभ गुप्ता, सुधीर चौरसिया, विजय गुप्ता आदि लोग भी शामिल हुए। इस मार्च में स्थानीय पत्रकार भी शामिल हुए। वरिष्ठ पत्रकार जयशंकर पाण्डेय, मो अहमद उर्फ चुनई, बहारुद्दीन खां,   अरुण मिश्र एडवोकेट, गौरव गुप्ता, सत्य प्रकाश आर्य, बच्चू यादव, नितिन बाजपेयी समेत सर्व समाज के सैकड़ों लोग शामिल हुए। 
वहीं दूसरी ओर चमियानी में भी पुलवामा में शहीद हुये जवानों को  श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। सीमाओं पर तैनात वीर  जवानों के कारण हम सभी घरों में सुरक्षित रह सकते हैं। पुलवामा में शहीद हुये जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित कर  चमियानी में हजारों की संख्या में जनसमूह द्वारा कैंडल मार्च निकाला गया, पकिस्तान मुर्दाबाद और हिन्दुस्तान जिन्दाबाद के नारे भी लगाये गये।
आक्रोश का स्वर गाँव की गलियों तक गूंजा। आतंकवाद का पुतला फूँक कर यह मार्च बाजार से होते हुये सान्चिल बाबा के मन्दिर में समाप्त हुआ। मौन धारण कर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। इस मौके पर प्रधान प्रतिनिधि सुरेन्द्र कुमार, मुन्ना बजाज, रिंकू पटेल, अभय पटेल, आशीष कनौजिया, महेश दीक्षित, प्रेमू शुक्ला, विनीत बाबू, विवेक कुमार, अनिकेत निर्मल, अमरेश चौधरी,  जयसिंह चौधरी, शिक्षक समुदाय में दुर्गाशंकर  अमरेन्द्र, कुलदीप, आशीष, अरुण दीक्षित, उमेश कुमार हजारों की संख्या मे लोग उपस्थित रहे।

No comments