Ad

style="width:640px;height:100px;" alt="ads" /> ads

Breaking News

मुखाग्नि देने के बाद बेटी सुप्रिया हुई बेहोश और रोने लगा कन्नौज



कन्नौज । जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए प्रदीप सिंह यादव की अंतिम विदाई में आज पूरा कन्नौज रो पड़ा । राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। उनके पार्थिव शरीर को मुखाग्नि देने के बाद बेटी सुप्रिया बेहोश हो गयी। बेटी को प्राथमिक इलाज के लिए भेजा गया है। 
इत्रनगरी कन्नौज के हसेरन क्षेत्र के गांव सुखसेनपुर में आज सुबह लखनऊ से सीआरपीएफ से डीआइजी जीसी जसवीर सिंह सिंधु के नेतृत्व में 115 बटालियन सीआरपीएफ के 30 जवानों की टोली शहीद प्रदीप सिंह का पार्थिव शरीर लेकर गांव पहुंची। इसके बाद गांव में ही राजकीय सम्मान के साथ जवान के शव का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान अपने लाल के अंतिम दर्शन के लिए जनसैलाब उमड़ पड़ा। यहां जैसे ही सीआरपीएफ की गाडिय़ों ने गांव में प्रवेश किया, वैसे ही लोगों ने भारत माता की जय और जय हिंद के उद्घोष से आसमान गूंज उठा। तिरंगे में शव को लिपटे देख पत्नी और बच्चे पिता के पार्थिव शरीर पर गिर पड़े, पिता अमर सिंह आंसुओं को रोक नहीं सके। वो एक ही बात बोल रहे थे, देश के दुश्मनों को छोडऩा मत। 
प्रदीप का पार्थिव शरीर जब घर के आंगन से उठा तो पूरा कन्नौज रोने लगा। आंखों से बहते आसुओं से के साथ अपने लाल को सैल्यूट मारा। किसी ने दोनों हाथ जोड़कर नमन किया। इस दौरान भारत माता की जय के नारे गूंजते रहे। जवान के पार्थिव शरीर को डीएम रवींद्र कुमार, एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह और तिर्वा विधायक कैलाश राजपूत ने कंधा दिया।

No comments