Ad

ads ads

Breaking News

परिषदीय विद्यालयों के दिन बहुरे, छात्रों को मिलेगी बेहतर सुविधा

उन्नाव। आखिर परिषदीय स्कूलों के दिन बहुर ही उठे है। अब जीर्णोद्धार की शुरूआत होने के आसार बनते दिख रहे है। जिससे बच्चों को अब बेहतर सुविधाओं के मिलने के आसार बढ़ चुके है।
बताते चले कि 14वें राज्य वित्त आयोग और स्वच्छ भारत मिशन के तहत यह कवायद नए साल के साथ जिले में तेज हो गई है। जिसके अन्तर्गत सिकंदरपुर सरोसी, सफीपुर, हसनगंज सहित अन्य ब्लाक के स्कूलों में नए निर्माण व मरम्मत कार्य को युद्ध स्तर से शुरू करा दिया गया है। जिले में बेसिक शिक्षा के ज्यादातर प्राथमिक और जूनियर स्कूल बदहाल है। न तो बच्चों को सुरक्षित छत मुहैया है और न ही उन्हें बेहतर सुविधाएं। कमियों को पूरा करने की कवायद शिक्षा विभाग में सिर्फ कागजों में होती रही। जिसे धरातल पर लाने का कार्य 14वें वित्त आयोग, राज्य वित्त आयोग और स्वच्छ भारत मिशन के तहत किया जा रहा। ग्राम पंचायत और नगर निकायों को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। जो अपने स्तर से स्कूलों की दशा को सुधारने का कार्य कर रहे है।
 
पहले चरण में शामिल होगें ये स्कूल
बदलाव की इस बयार में शामिल प्रथम चरण के स्कूलों में सिकंदरपुर सरोसी ब्लाक का सरैया प्राथमिक विद्यालय, नगर क्षेत्र का मोहारी बाग प्राथमिक विद्यालय सिविल लाइन्स, प्राथमिक विद्यालय रूपपुर चंदेला सफीपुर, हसनगंज ब्लाक का प्राथमिक विद्यालय जगदीशपुर, सराय मलकादिम, नयाखेड़ा, सिघनापुर, जरारी, नेवलगंज, मटरिया के अलावा उच्च प्रावि में हसनापुर, मोहद्दीनपुर, बाराखेड़ा आदि में चले रहे स्कूलों को लाभ पहुंचेगा। 

सुविधाओं पर रहेगा अधिक फोकस
जर्जर दीवार और छत को दुरुस्त करते हुए स्कूलों में शौचालय का निर्माण भी कराया जा रहा। साथ ही बच्चों के बैठने के लिए बेहतर फर्श और फर्नीचर पर भी कार्य हो रहा। इसके अलावा स्कूलों में बाउंड्रीवाल की कमी को भी पूरा करने का कार्य पंचायती राज विभाग कर रहा।
 
कार्य प्रगति पर....................
बीएसए बीके शर्माग् की देख रेख में पंचायती राज विभाग द्वारा परिषदीय स्कूलों के जीर्णोद्धार का कार्य किया जा रहा है। जहॉ विकास खंडवार चिह्नित स्कूलों में कार्य प्रगति पर है।

No comments