Ad

ads ads

Breaking News

एसडीएम के औचक निरीक्षण के दौरान राजस्व मंत्री के क्षेत्र में हुआ बड़े फर्जीवाड़े का फंडाफोड़


सागर। राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत के क्षेत्र की तहसील जैसीनगर में एक बड़े फर्जीवाड़े का मामला सामने आया हैं, जहाँ जैसीनगर तहसील के अर्जी नवीस रवि दुबे के फर्जीवाड़े का पर्दाफाश हुआ हैं।
राजस्व मंत्री के साथ एक कार्यक्रम में शामिल होने जैसीनगर पहुंचे एसडीएम केके खरे ने जैसीनगर तहसील का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हें बक्से नुमा लकड़ी की पेटी दिखी जिसे खुलवाने के बाद अंदर का सामान देख एसडीएम सहित उपस्थित सभी अधिकारी भौचक्के रहे गए, सभी की आँखे खुली की खुली रह गई। पेटी के अंदर नोटबन्दी के दौरान बंद हुए पांच सौ रुपये के 21 नोट, कई हजार रुपये के नए नोट, तहसीलदार की सील, स्टाम्प पेपर, कई मामलों से जुड़े प्रकरणों के कागज, गरीबी रेखा के परमिट, कृषि बंदी सहित एक गददी नुमा तकिया था जिसे फाड़ने पर उसमे से भी बंद हुए 500 के पुराने नोट बरामद हुए जो की किसी प्रकरण के कागजों से लिपटे हुए थे।
देखने वाली दिलचस्प बात यह हैं कि पिछले लगभग 15 वर्षो से यहाँ कार्यरत अर्जी नवीस रवि दुबे की शिकायतों के कई मामले सामने आते रहे हैं। स्वयं राजस्व मंत्री गोविंद राजपूत  के लगभग 10 दिन पहले दिये गए आदेश के अनुसार रवि दुबे का तहसील आना बैन था, इसके बावजूद भी उस पर अभी तक कोई कार्यवाही अधिकारियों के द्वारा नही की गई।
स्वयं तहसीलदार की आंखों के सामने हो रहे इस तरह के फर्जीवाड़े की भनक तहसीलदार को ना लगना और रवि दुबे पर उचित कार्यवाही ना होना, इस मामले में भी अधिकारियों की मिली भगत की ओर इशारा करती हैं।
वही मामले को लेकर मीडिया से बात करते हुए नायब तहसीलदार वैभव वैरागी ने बताया कि पेटी से जब्त सामान का पंचनामा बनाकर राजस्व अनुविभागीय अधिकारी के सामने पेश किया जाएगा एवं उनके आदेश अनुसार आगे की कार्यवाही की जाएगी। 
...रिपोर्ट : हेमंत आठिया,सागर मध्यप्रदेश।


No comments