Ad

ads ads

Breaking News

पहले दिन कुछ खास कमाई नहीं कर पाई 'वाय चीट इंडिया'

 



डेस्क। सौमिक सेन के निर्देशन में बनी इमरान हाशमी और श्रेया धनवंतरी की फिल्म चीट इंडिया जिसे सेंसर की आपत्ति के बाद उसमें Why शब्द जोड़कर इस फिल्म का नाम 'वाय चीट इंडिया' रख दिया गया।
यह फिल्म कोई ठगी वाली फिल्म नहीं बल्कि भारत की शैक्षणिक व्यवस्था की कमियों को उजागर करती एक कहानी के रूप  दर्शाई गई है। इसमें दिखाया गया कि कैसे शिक्षा एक समानांतर भ्रष्ट और लालची व्यवस्था बन गई है, और नकल धंधा बन चुका है। फिल्म में इमरान हाशमी ऐसे चीटर बने हैं, जो इंजीनियरिंग और मेडिकल में जाने वाले स्टूडेंट्स से मोटी फीस लेकर उनकी जगह किसी दूसरे से परीक्षा दिलवा देता है स इसे उसने अपना पेशा बना लिया और करोड़पति हो गया। फिल्म को बनाने में 20 से 25 करोड़ रुपए लगे हैं। वैसे जानकार मान रहे थे कि पहले दिन ही इसकी तीन करोड़ रुपए तक की कमाई हो सकती है लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा।
बतादे कि  शुक्रवार को एक या दो नहीं बल्कि छह फिल्मों के बीच इस फिल्म का टकराव हुआ है। एक तरफ गोविंदा है तो दूसरी तरफ इमरान हाशमी और अरशद वारसी भी। गोविंदा की 'रंगीला राजा' इमरान हाशमी की 'वाय चीट इंडिया' अरशद वारसी की 'फ्रॉड सैयां' चीन युद्द के दौरान की कहानी '72 आवर्स' राधिका आप्टे की 'बॉम्बेरिया' और मौलाना आजाद पर एक फिल्म रिलीज हुई है। इन सबके बीच 'वाय चीट इंडिया' कुछ खास कमाई करती नहीं नजर आ रही है। इस फिल्म की पहले दिन की कमाई दो करोड़ पार नहीं हुई , यह फिल्म दो करोड़ के आंकड़े को छू नहीं पाई और इसकी कमाई 1.71 करोड़ रुपए रही। कहा जा रहा है कि आने वाले दो दिनो  में फिल्म की कमाई अगर नहीं बढ़ी तो यह फ्लॉप भी हो सकती है

No comments