Ad

ads ads

Breaking News

एचटी लाइन की चपेट में आने से बच्चे की मौत,ग्रामीणों ने की सड़क जाम


बिछिया/उन्नाव। विद्युत विभाग की लापरवाही के चलते जर्जर हाईटेंशन लाइन का तार टूटकर खेत में जा गिरा। जहां पर मवेशी चरा रहा एक बालक हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गया। जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई। ग्रामीणों की सूचना पर परिजनों में हड़कंप मच गया। आक्रोश में आ, परिजनों समेत ग्रामीणों ने पुरवा उन्नाव राजमार्ग मार्ग पर जाम लगा दिया। देखते ही देखते पुरवा व उन्नाव की तरफ भीषण जाम की स्थिति बन गई। सूचना मिलने पर थाना पुरवा कोतवाली सदर तहसीलदार मौके पर जा पहुंचे तथा मुआवजे की बात की, तब जाकर जाम खुलवाया जा सका।  
जानकारी के अनुसार अभिषेक 13 वर्ष पुत्र मन्नू उर्फ दिनेश निवासी जरगांव थाना अचलगंज श्याम लाल के खेत के पास मवेशी चरा रहा था। जहां पर कुछ देर पूर्व  श्याम लाल के खेत के ऊपर से निकले हाईटेंशन वोल्टेज का तार टूट कर खेत में मवेशी से सुरक्षा के लिए लगाई गई बाढ़ पर जा गिरे, जिनके संपर्क से पूरे खेत में बिजली दौड़ रही थी। इसी बीच अभिषेक मवेशियों को हाँकते हुए खेत की तरफ आया। वह जब कुछ समझ पाता, बाढ़ में दौड़ रही करेंट के संपर्क में आ गया।जिससे वह बुरी तरह झुलस गया। दौरान उसकी मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। गांव के ही पप्पू ने भागकर उसके बाबा रामपाल को मामले की जानकारी दी। जानकारी मिलते ही घर में हड़कंप मच गया। 
बताते चलें कि मृतक बालक के पिता मुन्नू उर्फ दिनेश दिहाड़ी मजदूरी का काम करते हैं, तथा वे कहीं काम पर गए हुए थे।घटना से ग्रामीणों ने आक्रोश में आकर सड़क में जाम लगा दिया। देखते-देखते दोनों तरफ एक से डेढ़ किलोमीटर तक के मध्य भारी वाहनों का तांता लग गया। सूचना मिलने पर थाना पुरवा से कोतवाल अरुण प्रताप सिंह व अन्य पुलिसकर्मी मौके पर जा पहुंचे। उनके समझाने के बावजूद भी ग्रामीणों ने बिजली विभाग के अधिकारियों के आने के बगैर जाम ना खुलने की बात कही। बिजली विभाग के खिलाफ नारे लगाने शुरू कर दिए। जिसके बाद बिजली विभाग के एसडीओ राजकुमार तथा तहसीलदार दशरथ कुमार पहुंचे। उनके समझाने व मुआवजा देने की बात के बाद ही जाम खुलवाया जा सका। तहसीलदार ने परिजनों को मुआवजे के तौर पर ₹500000 देने की बात कही है। पहले भी जर्जर तार की चपेट में ग्रामीण आ चुके हैं। जिससे ग्रामीणों में आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है।

No comments