Ad

ads ads

Breaking News

अतिनिर्धन को भी नहीं मिला प्रधानमन्त्री आवास योजना का लाभ

उन्नाव। प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाए आला अधिकारियों की लापरवाही की भेट चढ़ती दिखाई पड़ रही है। पात्र व अपात्रों के बीच योजानाओं का खेल लूट घसूट का पर्याया बन कर रह गया है। विकास खंड में अधिंकाश गरीबों को आज भी योजनाओं के लाभ के लिए अधिकारियों की चौखट में जा जा कर जी हजूरी करना ही मुख्य कार्य रह गया है। जहॉ पर सिर्फ कागजों पर ही सरकार की सारी योजनाए प्रदान की जा रही है।  
सपा-बसपा के गठजोड़ के पीछे क्या है असली वजह.......
ऐसा ही एक मामला विकासखंड बिछिया के ग्राम जरगाँव में उभर कर आया जहॉ पर गुड्डी देवी पत्नी नरेश बाजपेई को अतिनिर्धन परिवार में शामिल होने के बावजूद कालोनी से वंचित रखा जा रहा है। फोटो में साफ साफ दिखाई पड़ रहा हैं कि उक्त परिवार किन परिस्थितियों से अपना गुजर बसर कर रहा है। ऐसा भी नहीं कि अधिकारियों का मामले की कोई खबर नही,  फिर भी निजी स्वार्थो के चलते उक्त गुड्डी देवी पत्नी नरेश बाजपेई को कालोनी देने के नाम पर लगातार टरकाया जा रहा है। पीडिता गुड्डी देवी पत्नी नरेश बाजपेई ने ग्राम विकास अधिकारी से लेकर जिलाधिकारी तक मदद की गुहार लगाई। लेकिन उसे मदद के नाम पर कोरा आश्वासन दे चलता कर दिया गया। वहीं उसे खुले में रहने को व खुले में खाना बनाने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।