Ad

ads ads

Breaking News

संजली हत्याकांड को लेकर युवाओं में आक्रोश, सड़कों पर उतरकर किया प्रदर्शन


 
फाइल फोटो
आगरा। छात्रा संजली की मौत की खबर मिलने के बाद जनपद के गांव लालऊ में मातम पसर गया। छात्रा की मौत से जहां ग्रामीण गमजदा हैं, तो वहीं उनके अंदर योगी सरकार और पुलिस प्रशासन के खिलाफ गुस्सा भी है। क्योंकि अब तक छात्रा को जलाने वालों का पता नहीं चला है। 
गांव लालऊ में घटना से आक्रोशित युवाओं ने सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। कलक्ट्रेट पर भीम आर्मी और किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं समेत कई संगठनो ने युवाओ के साथ मिलकर जोरदार प्रदर्शन किया और प्रशासन से मांग की है कि दो दिनो के अंदर पर्दाफाश कर और आरोपितों को जेल भेजें। वर्ना उग्र आंदोलन किया जायेगा। उधर संजली के स्कूल के साथी भी गमजदां हैं और उसे आग के हवाले करने वाले युवकों का सुराग लगाने में जुटे हैं।
 

संजली हत्याकांड के विरोध में किसान नेता श्याम सिंह चाहर ने कलेक्ट्रेट परिसर में मुंडन करवाया। उनके साथ तमाम किसानों ने भी मुंडन कराया। किसान नेता ने मांग की है कि हाईस्कूल की छात्रा संजली के हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। 

बतादे कि संजलि कक्षा 10 की छात्रा थी। वह अपने गांव से नौ किमी दूर नौमील गांव स्थित अशरफी देवी छिद्दा सिंह इंटर कॉलेज में पढ़ती थी। मंगलवार दोपहर को हुई छुट्टी के बाद संजली साइकिल से अपने घर लौट रही थी। इसी दौरान बाइक सवार दो युवकों ने पेट्रोल डालकर उसे आग के हवाले कर दिया।

संजलि को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए आगरा के एसएन मेडिलकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है। यहां से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में रेफर कर दिया गया। जहां गुरुवार तड़के उसकी मौत हो गई। संजलि की मौत से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। संजली की इलाज के दौरान मौत के बाद दिल्ली में ही पोस्टमार्टम होगा, वहां से शाम को लालउ खेड़ा संजलि का शव पहुंचेगा। वहीं बिटिया की मौत से गांव लालऊ में लोग इतने दुखी हैं कि घरों में लोगों ने चूल्हा तक नहीं जलाया।

No comments