Ad

ads ads

Breaking News

यमुना में डूबे बालक का सात दिन बाद मिला शव



पुलिस ने पंचनामा भर शव परिजनों को सौंपा



गंगोह/सहारनपुर। यमुना में डूबे बालक का शव सात दिन बाद घटना स्थल से दो किमी दूर बानूखेड़ी के पास तैरता मिला, पुलिस ने पंचनामा भर शव परिजनों को सौंप दिया। 
विदित है कि गांव बल्ला मजरा निवासी रशीद का 14 वर्षीय पुत्र सादिक मंगलवार को खेत पर अपने परिवार वालों का खाना लेकर जा रहा था। खेत पर यमुना नदी पार कर जाना पड़ता है। यमुना नदी पार करते समय ही वह गहरे पानी में डूब गया था। वहां से गुजर रहे राहगीरों ने युवक को डूबते देखा तो उसे बचाने का प्रयास किया लेकिन वह सफल नहीं हो पाए थे। आसपास के कुछ गोताखोर ग्रामीणों ने युवक को नदी में ढूंढने का काफी प्रयास किया लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका। ग्रामीण अपने स्तर पर लगातार युवक को तलाशने का प्रयास कर रहे थे लेकिन उन्हें कामयाबी नही मिल पा रही थी। सोमवार सुबह ग्रामीणों ने बल्लामजरा से करीब दो किमी दूर गांव बानूखेड़ी के पास यमुना में एक शव तैरता देखा। इसकी सूचना उन्होने बल्लामजरा में दी, मौके पर पहुंचे परिजनों ने उसकी पहचान सादिक के रूप में की इसके बाद जानकारी पुलिस को दी गई, मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों द्वारा पोस्टमार्टम कराने से इंकार करने पर शव का पंचनामा भर कर उसे परिजनों के सुपुर्द कर दिया। ग्रामीणों ने पीड़ित को मुआवजा देने की मांग की है।

No comments