Ad

ads ads

Breaking News

भ्रष्टाचार के विरुद्ध राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के समर्थन में उतरे विधायक


आगरा। राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ आगरा के तत्वाधान मै ब्लॉक संसाधन केन्द्र एत्मादपुर पर आयोजित शैक्षिक उन्नयन संगोष्ठी में "भ्रष्टाचार मुक्त शिक्षा ,अत्याचार मुक्त शिक्षक" तथा प्राथमिक शिक्षा की दिशा एवं दशा विषय पर मुख्य वक्ता के रूप में बोलते  हुए राष्ट्रीय शैक्षिक महा संघ के जिलाध्यक्ष  मुकेश डागुर ने कहा कि जनपद आगरा में बेसिक शिक्षा की व्यवस्था बदहाली के दौर से गुजर रही है जिसके कारण शिक्षा की गुणवत्ता बुरी तरह से प्रभावित हो रही है जो राष्ट्र की अपूर्णीय क्षति है। जिसके लिए सरकार की अप्रासंगिक नीतियां एवं विभागीय अधिकारी, बाबू जिम्मेदार हैं ।
बेसिक शिक्षा राष्ट्र की रीढ़ है जिसके साथ अधिकारियों द्वारा खिलवाड़ किया जा रहा है।संगठन द्धारा भ्रष्टाचार के विरोध मैं अनवरत रुप से भ्रष्टाचार विरोधी मुहीम चलाई जा रही है किन्तु इसके बावजूद अधिकारियों द्वारा किये जा रहे  भ्रष्टाचार  पर  अंकुश नहीं लग पा रहा है।
 हद तो तब हो जाती है जब शिक्षकों को अपने मासिक वेतन के लिए भी रिश्वत दो या वेतन छोड़ो की स्थिति से गुजरना पड़ता है।
वर्तमान में शिक्षको के सम्मुख उनके वेतन ,एरियर, एवं मिडडे मील की समस्या विकराल रूप में खड़ी है तमाम शिक्षक, शिक्षिकाएँ अपनी वेतन संबंधी शिकायतों को लेकर भावुक हो कर रोने लगीं।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक श्री राम प्रताप सिंह चौहान ने उठाई गई शिकायतो की पुष्टि  मंच से अपने वक्तव्य में की ।
उन्होने कहा कि इस प्रकार की शिकायतें मेरे पास भी आए दिन आ रही हैं ।
अधिकारी  भ्रष्टाचार कर  रहे हैं जबकि हमारी सरकार भ्रष्टाचार की  प्रबल विरोधी है ।
जो अधिकारी भ्रष्टाचार में संलिप्त है उनकी तथ्यात्मक शिकायत आगामी विधानसभा सत्र में  बेसिक शिक्षा मंत्री और माननीय मुख्यमंत्री से की जाएगी और ऐसे लोगों के खिलाफ कठोर कारवाई कराते हुए जिले से बाहर फिंकवाया  जाएगा।
 उन्होनें कहा कि राष्ट्रीय शैक्षिक महा संघ शिक्षक हित में उत्कृष्ट कार्य कर रहा है मैं इनके कार्य का समर्थन करता हूँ  और भ्रष्टाचार के विरुद्ध इस लड़ाई में  पूर्ण रूप से राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के साथ खड़ा हूँ ।
मंच से उन्होंने शिक्षकों को आश्वश्त  करते हुए कहा कि उन्हें डरने की आवश्यकता नहीं है  राष्ट्र हित में भयमुक्त हो कर कार्य करें । 
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए  उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिलाध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह छौंकर ने कहा कि बेसिक शिक्षा से भ्रष्टाचार रूपी वायरस को जड़ से उखाड़ फेंकने में शिक्षामित्र संघ  अपनी जान लड़ा देगा । 
कार्यक्रम को मंडलीय महामंत्री रमेश यादव, जिला महामंत्री अभय यादव, रजीव शर्मा, सतेंद्र चौधरी , औटा अध्यक्ष डॉ वीरेन्द्र सिंह चौहान, डॉ देवी सिंह नरवार ने मुख्य रूप से सम्बोधित किया तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व बीआरसी महेश पाठक के द्वारा की गई तथा संचालन बंटी शर्मा ने किया।
पवन शर्मा को RSM एत्मादपुर ब्लॉक इकाई का अध्यक्ष सर्वसम्मति से नामित किया गया।
कार्यक्रम में प्रमुख रूप से प्रीति सिंह, हरेश चौहान, उमेश यादव, मुकेश वर्मा, रामप्रकाश लवानियां, दलीप परमार, महेश गुर्जर, कीर्तिपाल सिंह, सतीश बघेल, रोहित चाहर, मधुकांत, अजब किशोर बघेल, रामनिबास चाहर, रघुवीर शर्मा, धीरज सोन, अजीत कौशल, अजय सिसौदिया, उपस्थित रहे ।