Ad

ads ads

Breaking News

कार समेत एचसीएल के तीन इंजीनियर गंगनहर में गिरे,दो तैरकर बचे


मेरठ। जनपद के चौधरी चरण सिंह कांवड़ मार्ग पर तेज गति से आ रही कार अचानक अनियंत्रित होकर गुरुवार रात गंगनहर में गिर गई। इस दौरान कार में एक महिला व दो युवक सवार थे। तीनों एचसीएल में इंजीनियर हैं। घटना के दौरान एक युवक व महिला तैरकर बाहर आ गये। लेकिन उनका एक साथी कार के साथ पानी में ही समा गया। दिनभर गंगनहर में गिरी कार व युवक की तलाश में टीम जुटी रही लेकिन सफलता नहीं मिली। शनिवार दोपहर बाद तक भी युवक और कार का कुछ पता नहीं चल पाया।
रोहटा थाना के कार्यवाहक प्रभारी राहुल बालियान के मुताबिक नोएडा स्थित एचसीएल कंपनी के चार इंजीनियर गुरनीक कौर व नेहा वर्मा अपने दो दोस्त नितिन गुप्ता व विशाल कुमार के साथ गुरुवार रात स्विफ्ट कार से नोएडा से मुजफ्फरनगर में किसी कार्यक्रम में शामिल होने गए थे, कार्यक्रम से वापसी में नेहा मुजफ्फरनगर अपने घर रुक गई और बाकी लोग कार से कांवड़ मार्ग से लौट रहे थे।
देर रात कार जब चौधरी चरण सिंह कांवड़ मार्ग पर पूठ पुल से भोला की ओर चली तो अचानक कार अनियंत्रित होकर गंगनहर के किनारे बने डोले से टकराकर गंगनहर में गिर गई। कार में सवार गुरनिक कौर व विशाल किसी तरह खिड़की खुल जाने के कारण पानी में बह गये। इसके बाद दोनों तैरकर बाहर आ गये। वहीं कार चला रहे नितिन गुप्ता कार समेत गंगनहर में समा गया। पीड़ितों ने वहां से गुजरे लोगों की मदद से पुलिस को सूचना दी।
जानकारी पर पहुंची पुलिस ने कार व नितिन की तलाश शुरू कराई, लेकिन गंगनहर में पानी अधिक होने के कारण कुछ पता नहीं चल सका। सुबह गाजियाबाद से रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची और टीम ने दिन भर गंगनहर में कार व नितिन की तलाश की लेकिन कही भी कोई सुराग नहीं लग पाया।

टीम प्रभारी जितेंद्र का कहना है कि गंगनहर में पानी की अधिकता व बहाव तेज होने के कारण सफलता नही मिल पा रही है। प्रयास जारी है। नितिन गुप्ता अपने माता-पिता की इकलौती संतान है।
गंगनहर में समाई कार व इंजीनियर का 36 घंटे बीतने बाद भी कोई सुराग नहीं लग पाया है। पुलिस रेस्क्यू टीम के साथ तलाश करने में जुटी हुई है। लापता इंजीनियर नितिन गुप्‍ता के परिजन भी फतेहपुर से शुक्रवार देर रात आ गए। उनकी मौजूदगी में पुलिस ने विशाल को बुलाकर पूछताछ की। नवनीक कौर को भी पुलिस ने बुलाया है।

No comments