Ad

ads ads

Breaking News

बनारस में लगे गुजराती नरेंद्र मोदी बाहर हो के पोस्टर




डेस्क। वाराणसी शहर में पोस्टर लगाए जा रहे हैं, जिसमें लिखा है कि गुजराती नरेंद्र मोदी बनारस छोड़ो, यूपी बिहार एकता मंच की तरफ से। बनारस में रह रहे गुजरातियों व मराठियों के एक सप्ताह में बनारस छोड़ने की चेतावनी जारी की गई है। रूपाणी ने कहा कि बाहर से आए लोगों को अपना लेना गुजरात की परंपरा रही है। कुछ लोग राज्य की शांति-व्यवस्था को खराब करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, हम कानून-व्यवस्था कायम रखने को वचनबद्ध हैं। किसी भी कठिनाई की स्थिति में लोग पुलिस को बुला सकते हैं। पुलिस की तीव्र कार्रवाई से हालात नियंत्रण में आ गए हैं। गृह राज्य मंत्री प्रदीपसिंह जाडेजा ने कहा है कि गुजरात के विकास में अन्य प्रांत के लोगों का काफी योगदान रहा है। कुछ असामाजिक तत्व राज्य की शांति-व्यवस्था को बिगाड़ना चाहते हैं। जाडेजा के अनुसार मेहसाणा, साबरकांठा, अहमदाबाद, गांधीनगर, सुरेंद्रनगर और कुछ अन्य इलाकों में गैर-गुजरातियों पर हमले की 56 घटनाएं हुई हैं। अब तक 431 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। दूसरे प्रांत के लोगों की सुरक्षा के लिए एसआरपी की 17 कंपनी तैनात है। सोशल मीडिया पर भी निगरानी की जा रही है। अफवाह फैलाने वाले 70 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर 15 को पकड़ा जा चुका है। गौरतलब है कि गुजरात के साबरकांठा जिले में 28 सितंबर को 14 माह की अबोध बालिका के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया था। जिसके बाद यहां से हिंदी भाषी राज्यों, खासकर उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों पर हमलों के चलते यहां से उनका पलायन जारी है।