Ad

style="width:640px;height:100px;" alt="ads" /> ads

Breaking News

पुरानी पेंशन बहाली के लिए कर्मचारियों ने किया उपवास


...रिपोर्ट - रत्नम चौरसिया। (एडवोकेट)
पुरवा\उन्नाव। रविवार को विभिन्न विभागों के कर्मचारियों व शिक्षकों ने स्थानीय सांसद के आवास पर एक दिवसीय उपवास रखकर विरोध प्रदर्शन किया। सभी कर्मचारी पुरानी पेंशन बहाली की मांग रखने के लिए उपवास कर रहे हैं।
प्राप्त विवरण के अनुसार प्रदेश में वर्ष 2005 के बाद नियुक्त कर्मचारियों व शिक्षकों को सेवानिवृत्त हो जाने के बाद पुरानी पेंशन सरकार द्वारा बन्द कर दी गई है। सरकार की इस कारगुजारी का सभी नवनियुक्त कर्मचारी व शिक्षक संगठन लगातार विरोध कर रहे हैं। सरकार द्वारा लागू की गई नई पेंशन स्कीम कर्मचारियों के हित में नहीं है, क्योंकि इसका कोई ठोस नतीजा नहीं निकल रहा है। कर्मचारियों व शिक्षकों का कहना है कि जब वह 30-40 साल सेवा करते हैं तो उनकी पुरानी पेंशन क्यों समाप्त कर दी गयी। पेंशन ही उनके बुढापे का सहारा है। जबकि राजनेता अपनी पेंशन बहाल किए हुए हैं। विभिन्न विभागों के संगठनों का नेतृत्व कर रहे अटेवा मंच के कर्मचारियों व शिक्षकों ने स्थानीय सांसद सच्चिदानन्द हरि साक्षी के आवास पर एकत्रित होकर एकदिवसीय उपवास रखकर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही पुरानी पेंशन बहाल करने के लिए प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए संगठन के नेताओं ने कहा कि अभी भी समय है। सरकार हमारी मांग अतिशीघ्र पूरी करे, अन्यथा यह आन्दोलन पूरे प्रदेश व देश में  बहुत जल्द किया जाएगा।
इस दौरान मण्डलीय मंत्री महेन्द्र पाल सिंह, लेखपाल संघ के जिला मंत्री प्रवीण कुमार, रविकांत तहसील मंत्री लेखपाल संघ पुरवा, विनोद, तेज नारायण समेत प्राथमिक व उच्च प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारी समेत सैकड़ों की संख्या में कर्मचारी व शिक्षक उपस्थित थे।

No comments