Ad

ads ads

Breaking News

मेला व रामलीला कमेटी प्रबंधक ने रामलीला आयोजक पर लगाए गम्भीर आरोप



...रिपोर्ट - रत्नम चौरसिया। (एडवोकेट)
पुरवा/उन्नाव। ब्रिटिश शासन काल से आयोजित हो रही मौरावां की ऐतिहासिक रामलीला व मेले को प्रभावित करने का प्रयास किया जा रहा है। अश्लीलता करने व अनुशासनहीनता करने वालों को कतई बख्शा नहीं जाएगा। उक्त आरोप मेला कमेटी के प्रबंधक कुंवर विवेक नारायण सेठ ने लगाए हैं।
मंगलवार को पुनः एक बार प्रेस वार्ता करके मेला कमेटी के प्रबंधक कुंवर विवेक नारायण सेठ ने अपनी आपबीती सुनाई। उनकी बातों से ऐसा महसूस हो रहा था कि वह रामलीला आयोजन समिति के मुखिया अमरेश मिश्र उर्फ भुट्टो से बहुत ही आहत हुए हैं। आपको बता दें कि  राजा मौरध्वज की ऐतिहासिक नगरी मौरावा में लगभग सौ वर्षों से अधिक समय से रामलीला का आयोजन हो रहा है। आजादी के बाद से मेला कमेटी के पदेन अध्यक्ष जनपद के जिलाधिकारी होते हैं। कमेटी के प्रबंधक कुंवर विवेक नारायण सेठ ने बताया कि उनके पूर्वज ही मेला कमेटी के प्रबंधक मंत्री हुआ करते रहे हैं, और वह स्वयं बीते लगभग दस वर्षों से प्रबंधक मंत्री हैं। उन्होंने बताया कि मौरावा नगर निवासी अमरेश मिश्र को रामलीला मंचन हेतु लगभग दस से बारह दिनों के लिए एक  निश्चित धनराशि पर अनुबंध देते हैं। इस बार भी रामलीला के मंचन हेतु कुल 70 हजार रुपये चेक द्वारा उनके खाते में दिए जा चुके हैं। किन्तु इस बार रामलीला मंचन के दौरान बहुत ही अनियमितता बरती जा रही है। प्रबंधक का आरोप है कि अमरेश मिश्र सांस्कृतिक कार्यक्रम को प्रभावित करने का प्रयास कर रहे हैं। लीला मंचन से पहले महिला नर्तकियों द्वारा अश्लील नृत्य कराते हैं। प्रबंधक कुंवर विवेक नारायण सेठ ने बताया कि जब इस कृत्य का उन्होंने 18 अक्टूबर को विरोध किया और समझाने का प्रयास तो अमरेश मिश्र ने रामलीला न करने की धमकी दी थी। उन्होंने कहा कि इस घटना से उनके परिवार व मेला कमेटी की प्रतिष्ठा को गहरा आघात पहुंचा है। उनका कहना है कि उस रात के बाद से अमरेश मिश्र ने उन्हें व उनके सहयोगियों को अपशब्द कह रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस मेला व रामलीला को देखने दूर दराज गावों से हजारों लोग, महिलाएं व बच्चे आते हैं। किन्तु अश्लील नृत्य होने से शोहदों का जमावड़ा हो जाता है, और सभ्य परिवार के लोग बिना रामलीला देखे ही वापस लौट जाते हैं। इससे हमारी प्रतिष्ठा को ठेस पहुंच रही है। उन्होंने कहा कि मै अब उनके व उनके सहयोगियों के विरुद्ध मानहानि का मुकदमा करूंगा। साथ ही वैधानिक कार्यवाही भी करूंगा।