Ad

ads ads

Breaking News

अनाथ व परित्यक्त बच्चों को जिलाधिकारी ने कराया भोजन

लखीमपुर खीरी। शारदीय नवरात्र के शुभ अवसर पर बुधवार की देर रात जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने सपरिवार मॉ काली सेवा संस्थान द्वारा संचालित बाल गृह बालक एवं विशेष दत्तक ग्रहण एजेंसी का भ्रमण कर वहॉ पर निवासरत् बच्चों को अपने सरकारी आवास पर तैयार किया गया भोजन स्वयं परोसा और परिवार के साथ बैठक कर उन्होंने अनाथ व परित्यक्त बच्चों के साथ भोजन एवं मिष्ठान ग्रहण किया।

मॉ काली सेवा संस्थान द्वारा संचालित बाल गृह बालक एवं विशेष दत्तक ग्रहण एजेंसी के भ्रमण के दौरान जिलाधिकारी का प्रयास यह था कि बच्चे उनके साथ बिल्कुल सहज महसूस करें, और भोजन करते समय उन्हें ऐसा एहसास हो कि वे घर में मौजूद भोजन की मेज़ पर जिलाधिकारी नहीं बल्कि अपने परिवार के साथ जिसमें माता-पिता व अन्य नज़दीकी सम्बन्धी मौजूद रहते हैं, बैठकर भोजन कर रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि बाल गृह बालक में निवासरत् 10-18 वर्ष आयु वर्ग के 19 तथा मॉं काली सेवा संस्थान द्वारा संचालित विशेष दत्तक ग्रहण एजेंसी में रहने वाले 10 वर्ष आयु वर्ग के 10 बच्चों को भोजन को परोसते तथा भोजन करते समय जिला आकांक्षा समिति की कार्यकारी अध्यक्ष श्रीमती विभा सिंह व जिलाधिकारी ने बच्चों से खेलों के बारे में उनकी रूचियों, लक्ष्यों तथा उनके हीरोज़ के बारे में जानकारी प्राप्त की।

जिलाधिकारी ने भोजन के दौरान बच्चों से उनकी शिक्षा-दिक्षा के बारे में जानकारी प्राप्त करते हुए बच्चों से पहाड़ा भी सुना और छोटे-मोटे सवाल-जवाब भी किये। उन्होंने बच्चों से संस्थान द्वारा उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं के बारे में भी बच्चों से फीड बैक प्राप्त किया। उन्होंने निवासित बच्चों को सीख दी कि अपने लिए बड़े लक्ष्य निर्धारित करें और कभी भी किसी विषम परिस्थिति से कदापि घबरायें नहीं। दोनों स्थानों से विदा लेते हुए जिलाधिकारी ने बच्चों को चॉकलेट की सौगात देते हुए कहा कि यहॉ आकर उन्हें व उनके परिवार को बहुत अच्छा महसूस हुआ है। भविष्य में समय मिलने वे पुनः बच्चों से मुलाकात करने अवश्य आयेंगे। इस अवसर पर जिला प्रोबेशन अधिकारी संजय निगम, जिलाधिकारी के ओएसडी राकेश त्रिपाठी व अन्य सम्बन्धित लोग मौजूद रहे।

...रिपोर्ट - हिमांशु श्रीवास्तव। (लखीमपुर खीरी)