Ad

ads ads

Breaking News

मनरेगा श्रमिकों ने भुगतान कम मिलने को लेकर जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणजनों से बात कर जताया आक्रोश


सीकर। जनपद के लक्ष्मणगढ उपखंड के गांव बठोठ में मनरेगा श्रमिक भुगतान बहुत ही कम देने को लेकर नरेगा श्रमिकों ने आज श्रम करते समय वंही पर जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणजनों के साथ मीटिंग करके सभी श्रमिकों ने एक स्वर में अपनी पीङा व्यक्त करते हुए आक्रोश जताया। मीडिया के माध्यम से सरकार को अपनी बात रखते हुए कहा कि नरेगा मे पूरे दिन पूरी मजदूरी कराके केवल नाम मात्र का भुगतान करने पर एक तरह से बन्दुआ मजदूरी करा रहे हैं जो हमारे साथ नाइंसाफ़ी है, कम भुगतान व समय पर नहीं मिल रहा भुगतान समस्या का समाधान जल्द पूरा नहीं किया तो जनप्रतिनिधियों को साथ लेकर मजबूर होकर आन्दोलन किया जायेगा।
मीटिंग के दौरान पूर्व पंचायत समिति सदस्य नरेंद्र बाटड़ ने कहा कि नरेगा श्रमिकों से पूरे दिन पूरी मजदूरी कराके केवल नाम मात्र 30-40 व 50 रुपये ही प्रतिदिन मजदूरी देने वो भी समय पर नहीं मिलने की बात को जिला कलेक्टर व 24 को लक्ष्मणगढ़ में आ रही मुख्यमंत्री को लिखित ज्ञापन द्वारा अवगत कराया जायेगा फिर भी नरेगा श्रमिक भुगतान पूरा नहीं दिया तो सभी जनप्रतिनिधियों, मजदूर संगठनों व आमजनों को साथ लेकर आन्दोलन किया जायेगा, और साथ मे इस मामले को लेकर न्यायलय मे भी याचिका लगाई जायेगी। किसी भी हालत मे पूरे दिन की पूरी श्रमिक मजदूरी 180 रुपये का भुगतान हर हालातों में करना पङेगा।

श्रमिक महिला पार्वती नायक ने बताया की हमसे प्रातः 9 बजे से शाम 5 बजे तक कच्ची मिट्टी का श्रम करवाते हैं। कच्ची मिट्टी उठाने का टारगेट भी दिया जाता है उस टारगेट से काफी ज्यादा की मिट्टी उठाने का काम करने पर भी हमें श्रमिक भुगतान केवल 30-40 रुपये का ही भुगतान किया जा रहा है। इतने कम भुगतान से हमारी आजीविका घर जन जीवन चलना बङा मुश्किल हो रहा है। सरकार प्रशासन से हमारी मांग है की श्रमिक भुगतान पूरा दिया जाये और समय पर भुगतान करें।
इस दौरान श्रमिक श्याना शर्मा, मैंना, भुगानी, मुन्नी,पान्ना,जङाव,तेजाब,सरोज,तिजु,कोयली,रेखा,सुंवठी, कमला,भागोती मेत्र,दुर्गा,मिरा सांसी,मुकनी, तुलक्षी,श्याना शर्मा,संतोष मेघवाल,मदन सांसी,पप्पू गंवारीया,शंकर मेघवाल,देवा मेघवाल सहित कई  श्रमिक महिलाएं व पुरुष मौजूद रहे।
_________________________

No comments