Ad

ads ads

Breaking News

कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट पर बरसें पंचायतीराज मंत्री राजेंद्र राठौड़



राजस्थान। सीकर जिले के लक्ष्मणगढ़ कस्बे मे युवा सम्मेलन  कमल संगम का कार्यक्रम का आयोजन किया गया। आयोजन रणंवा गुट की ओर से जहां पूर्व में मणिमहल में ओबीसी, महिला व एसएसटी सम्मेलनों के माध्यम से भीड़  जुटाकर अपनी दावेदारी जताई गई, वहीं आशीष होटल में सिंघानिया गुट की ओर से आयोजित युवा सम्मेलन कमल संगम के माध्यम से स्थानीय नेताओं की ओर से दावेदारी जताई गई। रणवा विरोधी गुट की ओर से आयोजित युवा सम्मेलन कमल संगम को संबोधित करते हुए, मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने इस तरह के बड़े कार्यक्रमों में एकजुटता दिखाने की अपील की। 

राठौर ने कहा कि जब सबका ध्येय राज्य व देश में कमल खिलाना हैं, तो फिर इन सब बातों का कोई  औचित्य ही नहीं रह जाता हैं। कार्यक्रम में भीड़ को देखकर गदगद हुए राठौड़ ने कहा कि जिस प्रकार पूरे विधानसभा से बड़ी तादाद में कार्यकर्ता यहां आए हैं, उससे यह साफ हो जाता है कि इस बार लक्ष्मणगढ़ में कमल खिलेगा। राठौड़ ने कहा कि राजस्थान में जो कार्य कांग्रेस ने 10 साल सत्ता में रहकर नहीं किए, वो सभी कार्य वर्तमान भाजपा सरकार ने मात्र साढ़े चार साल में करके दिखा दिए हैं। राठौड़ ने कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के रूप में देश को सशक्त लीडर चुनने पर सभी कार्यकर्ताओं का आभार भी जताया। 

उन्होने कहा कि सभी कार्यकर्ताओं को पूरे जोर शोर से जूटकर देश में मोदी व राज्य में वसुन्धरा को पुन: सत्ता में लाना हैं। कार्यक्रम के दौरान राठौड़ ने सीएम राजे की २4 सितम्बर को कस्बे में प्रस्तावित रैली में अधिकाधिक भीड़ जूटाने का आह्वान किया। कार्यक्रम को युवा भाजपा नेता व राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य वरूण शिवरान, चुरू जिला प्रमुख हरलाल सहारण, भाजपा जिलाध्यक्ष मनोज सिंघानियां, पूर्व जिलाध्यक्ष महेश शर्मा, पूर्व प्रधान डालूराम चाहर, हरलाल धायल, जिप सदस्य ताराचंद धायल, भाजपा जिला उपाध्यक्ष अलका शर्मा, पूर्व दिलसुखराय चौधरी, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष विजयपाल बगडिय़ा, शहर अध्यक्ष,  भंवरलाल डोटासरा, बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ के जिला संयोजक शशिप्रकाश जोशी, अमृत ख्यालिया, भंवर सिंह रणंवा, रतनलाल महर्षि, ईश्वर सिंह राठौड़ व पूर्व सरपंच नरेश मंडीवाल ने भी संबोधित किया। इससे पहले राठौड़ के आगमन पर बड़ी तादाद में मौजूद भाजपा कार्यकर्ताओं ने जय-जय भाजपा के नारे के साथ उनका स्वागत किया।

स्थानीय को टिकट दे तभी खिलेगा कमल
काबिना मंत्री राठौड़ की मौजूदगी में कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक दिलसुखराय चौधरी, पूर्व प्रधान डालूराम चाहर व पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष विजयपाल बगडिय़ा ने स्पष्ट शब्दों में मंच से कहा कि यदि भाजपा को यह सीट अपनी झोली में डालनी है, तो स्थानीय उम्मीदवार को टिकट देनी होगी, बाहरी का टिकट देने की स्थिति में लक्ष्मणगढ़ में कतई कमल नहीं खिल पाएगा। बगडिय़ा ने तो स्पष्ट शब्दों में यूआईटी चैयरमैन रणंवा का नाम लेकर उनकी उम्मीदवारी का विरोध दर्ज करवाया, जिसके बाद काबिना मंत्री राठौड़ ने मंच से अपनी नाराजगी व्यक्त की और जिलाध्यक्ष सिंघानिया के माध्यम से बगडिय़ा को इस प्रकार शब्दों के उपयोग ना करने की नसीहत दे डाली। बाद में मंत्री राठौड़ ने अपने भाषण में इस बात का जिक्र करके इन सब बातों से ध्यान हटाकर एकजुटता के साथ पार्टी को जिताने का आह्वान किया।

पायलेट को भी लिया आड़े हाथ
काबीना मंत्री ने कहा कि कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट  अपने आप को पायलट कहते है जबकि पायलट वो होता है जो आकाश में हवाई जहाज उड़ाता है लेकिन हवाई जहाज को पायलट जब उतारता है तो कई बार हवाई पट्टी से डब्बा चुक हो जाता है प्लेन को पहले उतार देता है प्लेन क्रेस हो जाता है और जल कर भस्म हो जाता है।
पायलट ने विमान उड़ा तो लिया लेकिन  ये राजस्थान की जनता के सामने उतार नहीं पायेंगे ये ऐसी जगह उतरेगा जहां काले बादल ही मिलेंगे।
इस मौके पर भाजपा नेता सतीश पाटोदा, बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक सुरेन्द्र सिंह चारण, पूर्व देहात मंडल अध्यक्ष प्रहलाद सिंह खुड़ी, बालसिंह पालड़ी, नेछवा मंडल अध्यक्ष नंदलाल कामिया, पालिका में नेता प्रतिपक्ष संपत चेजारा सहित अनेक भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

इन्होने रखी कार्यक्रम से दूरी
कार्यक्रम में अतिथियों की सूची में नाम होने के बावजूद भी भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष झाबरसिंह खर्रा, फतेहपुर  से भाजपा नेता मधसूदन भिंडा, सीकर से डॉ बलवंत चिराना व भाजयूमो जिलाध्यक्ष श्याम सिंह चौहान कार्यक्रम में नहीं आए। इनके अलावा सीकर जिले के सभी भाजपा विधायकों व सासंद ने भी कार्यक्रम से दूरी बनाए रखी।

...रिपोर्ट - मुकेश कुमावत(सीकर लक्ष्मणगढ़)

No comments