Ad

ads ads

Breaking News

प्रधान मंत्री आवास योजना के पात्र भटक रहे दर बदर


लखीमपुर खीरी। प्रधान मंत्री का सपना सबका घर हो अपना, लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही के चलते पीएम का सपना, सपना ही बनकर रह गया। देश के पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई गई शहरी व ग्रामीण आवास योजना के तहत सभी गरीब-बेसहारा परिवारों को आवास उपलब्ध कराने की योजना की गई,
लेकिन क्षेत्रीय अधिकारियों की मनमानी के चलते आवास तो बाटे गए लेकिन गरीब-लाचार परिवार आज भी टूटे फूटे कच्चे मकानों में रहने को मजबूर है। मामला खीरी जनपद के तहसील मोहम्मदी पसगमा ग्राम पंचायत के नया गांव लुधिया पुर का है, जहां पर कुछ समय पहले प्रधान मंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवास तो बाटे गए लेकिन पात्र परिवार आज भी झोपड़ी में रहने को मजबूर है।  

लोग अपने परिवार के साथ झोपड़ी बना कर गुजर-बसर करने को मजबूर है। शिवराज, अनिल,हीरालाल,पनील, राजू समेत कई अन्य ग्रामीणों बताया कि 2011 की पत्रता सूची में नाम दर्ज होने के बावजूद भी हम लोग आवास के लिए दर-दर भटक रहे है, लोगो ने बताया कि ग्राम प्रधान व सेक्रेटरी से  लेकर अन्य उच्चअधिकारियो तक इसकी शिकायत की  लेकिन हर जगह से केवल दिलासा ही मिलता है। 

... रिपोर्ट - हरिओम सिंह। (लखीमपुर खीरी)

No comments