Ad

ads ads

Breaking News

भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ना युवक को पड़ा महंगा,प्रसाशन से लगाई मदद की गुहार

 

पुरवा/उन्नाव। विकासखंड हिलौली की ग्राम पंचायत गुजौली में निर्माणाधीन शौचालयों में हो रही धांधली और मानक अनुरूप सामग्री न लगाने का विरोध ग्राम सुखई खेड़ा मजरा गुजौली निवासी हर्षित शुक्ला पुत्र संतोष शुक्ला को उस समय महंगा पड़ गया जब उन्होंने इसकी जमीनी हकीकत का एक वीडियो सोशल मिडिया पर अपलोड कर दिया जिसके बाद लगातार उन्हें धमकियां मिलने लगी। इस बाबत शिकायत कर्ता ने उच्चाधिकारियों से मामले की निष्पक्ष जांच कराने व अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई है।     

प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त गांव में चल रहे शौचालय निर्माण कार्य का व गांव की स्वच्छता अभियान के बाबत जब युवा समाज सेवी हर्षित शुक्ला ने गांव वालों से जानकारी प्राप्त कर  उसकी जमीनी हकीकत का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया, जिसमें ग्रामीणों ने भी काफी कमियां बताई थी। आरोप है कि इसके बाद वर्तमान ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी सहित पंचायत मित्र के पति ने मिलकर हर्षित शुक्ला के घर पहुंच गए, और उसके पिता को धमकियां दी और कहा कि तुम्हारा अकेला लड़का है, उसे समझा दो कि नेतागिरी करनी छोड़ दे वर्ना तुम्हारे परिवार का चिराग भी गुल हो सकता है। वही शिकायत कर्ता हर्षित शुक्ला ने स्थानीय संवाददाता को अपनी आप बीती सुनाई व उच्चाधिकारियों को प्रार्थनापत्र देकर शिकायत की। पीड़ित ने बताया कि हम तो गाव वालों की भलाई करना चाहते थे। लेकिन हमे लगातार धमकियां दी जा रही है। ऐसे में मेरी व मेरे परिवार की सुरक्षा का उत्तरदायित्व स्थानीय प्रशासन का है।
वही जब इस सम्बन्ध में ग्राम विकास अधिकारी से दूरभाष पर मामले की जानकारी करनी चाही तो उनका फोन नहीं उठा। वहीं ग्राम प्रधान राकेश मिश्रा से दूरभाष पर जब इस बाबत बात हुई तो उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को निराधार बताया और मानक अनुरूप शौचालयों का निर्माण बताया।

... रिपोर्ट - रत्नम चौरसिया। (पुरवा उन्नाव)