Ad

ads ads

Breaking News

करेंट की चपेट में आने से युवती की मौत,ग्रामीणों ने हंगामा कर सड़क की जाम



कानपुर देहात। झींझक के पटेल नगर मोहल्ले में सुबह दूध लेने जा रही रही युवती ग्यारह हजार लाइन के ढीले विद्युत तारों की चपेट में आने से मौके पर ही मौत हो गई। घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने परिजनों के साथ मिलकर करियाझाला मोड़ के पास झींझक रोड पर शव रख कर जाम लगा बिजली विभाग के अधिकारियों पर कार्रवाई व मुआवजे की मांग की। मामले की जानकारी पर पहुंची पुलिस के समझाने के घंटो बाद लोगों ने जाम खोला। 

बतादे कि झींझक के पटेल नगर निवासी रामसिंह की चार पुत्री थी। सरस्वती (18) अर्चना  (26), वंदना (22), लक्ष्मी (16), तथा पुत्र ज्ञानेंद्र (14) है। जिनमे से सरस्वती आज भोर मोहल्ले में ही मुकेश के घर दूध लेने जा रही थी। इस दौरान किशौरा गाव को जाने वाली 11 हजार लाइन के झूलते तार उसके सिर में छू जाने से वह करंट की चपेट में आकर तड़पने लगी और कुछ ही देर में उसकी मौत हो गयी। ग्रामीणों से जानकारी मिलने पर परिजनों में कोहराम मच गया। पिता के साथ माता सरला देवी परिजनों व ग्रामीणों ने करियाझाला मोड़ के पास शव रखकर झींझक रसूलाबाद सड़क जाम कर दी। 

मुआवजा और विद्युत विभाग की लापरवाही के चलते हादसा होने पर संबंधित अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग कर लोग हंगामा करने लगे। सूचना मिलते ही प्रभारी सीओ डेरापुर आरके मिश्रा, नायब तहसीलदार डेरापुर जगरूपसिंह, प्रभारी निरीक्षक थाना मंगलपुर ने मौके पर पहुंचकर परिजनों को भरोसा दिलाकर शांत कराया। वही मृतका के पिता ने जेई झींझक सचिन यादव के खिलाफ तहरीर दी। प्रभारी निरीक्षक थाना मंगलपुर तुलसीराम पाडेय ने बताया कि जेई के खिलाफ गैर इरादतन हत्या में मुकदमा दर्ज किया गया है। वही नायब तहसीलदार जगरूप सिंह ने बताया कि तार बहुत नीचे थे, जिसकी रिपोर्ट उपजिलाधिकारी के माध्यम से जिलाधिकारी को भेजी जाएगी।