Ad

Breaking News

मेजर कमलेश पाठक की प्रतिमा नगरपालिका के कबाड़ में



सागर। जनपद के देवरी कला बीते दिनों शहीद दिवस के मौके पर नगरपालिका चौराहे पर शहीदों के नाम की मोमबत्तियां जला कर कैंडल मार्च निकाला गया। बतादे कि देवरी क्षेत्र में अगर शहीदों का नाम लिया जाता है तो सर्वप्रथम मेजर कमलेश पाठक का नाम निकल कर सामने आता है और विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से इन्हें याद भी किया जाता रहा है। लेकिन बडे़ दु:ख की बात यह है कि जो भी शहीदों के नाम पर मोमबत्तियां जलाते हैं और कैंडल मार्च निकालते हैं, उन मोमबत्ती जलाने वालों को यह याद नहीं होगा कि जिस शहीद के नाम पर ये लोग मोमबत्तियां जलाते हैं, वह आज नगरपालिका के कबाडे में पड़ा है। 

जी हाँ ऐसी ही तस्वीर निकल कर सामने आई है जो आपको झकझोर कर रख देगी। और यह तस्वीर उन्हें भी शर्म के मारे सिर झुकाने पर मजबूर कर देगी जो मेजर कमलेश पाठक के नाम से मोमबत्तियां जलाते हैं। बतादे कि नगरपालिका के कबाड़ के साथ मेजर कमलेश पाठक की प्रतिमा भी पड़ी देखी गई है। जिससे अब यह सावाल सामने आता है कि क्या मोमबत्ती जलाने वालों को इसकी जानकारी नहीं थी। और सबसे बड़ा सवाल यह है कि वह प्रतिमा वहां पर पहुंची कैसे। 
  
...रिपोर्ट - हेमंत आठिया। (सागर मध्यप्रदेश)