Ad

ads ads

Breaking News

कलेक्टर कार्यालय में पत्नी व सास ने मिलकर दामाद को चप्पलों से पीटा

कलेक्टर कार्यालय में उस वक्त हड़कंप मच गया जब दो महिलाएं मिलकर एक व्यक्ति को कार्यालय में चप्पलों से पीटने लगी 
सागर। जनपद के कलेक्टर कार्यालय में उस वक्त हड़कंप मच गया जब दो महिलाएं मिलकर एक व्यक्ति को कार्यालय में चप्पलों से पीटने लगी। पीटते वक्त महिलाएं कह रही थी तुमने मुझे समझ क्या रखा है तो वही दूसरी महिला कह रही थी इस हरामखोर ने दूसरी लड़की को कोर्ट में पेश कर तलाक ले लिया, और दोनों महिलाएं चप्पल और हाथों से युवक की पिटाई करते जा रही थी यह सारा मामला सागर कलेक्ट्रेट परिसर में का है। 
बतादे कि टीकमगढ़ निवासी बबीता अहिरवार ने बताया कि मेरा पति मुझसे दहेज के लिए आयदिन मारपीट करता रहता है और दहेज़ की मांग कर रहा था। जिसके बाद इसकी जानकारी मैने अपने माता-पिता दी। जिसपर वह ससुराल आए और मुझे ले गए। जिसके कुछ समय बाद दोबारा से मेरा पति मुझे लेने आया और घर वालो को समझा बुझा कर वापस ला रहा था इस दौरान उसने रास्ते में एक्सीडेंट कर मुझे गिरा दिया और फिर घर आकर मुझे मारा-पीटा और मेरा इलाज भी नहीं कराया। जिसके बाद मामले की जानकारी जब पिता को  हुई तो वह फिर से मुझे लेने आए और उन्होंने मेरा सारा इलाज कराया। जिसके कुछ दिनों बाद हमारे घर आई जी ऑफिस से एक लेटर आया जिसमे हम लोगों के खिलाफ किसी कार्यवाई की बात थी। जब मामले की जानकारी की तो पता चला कि मेरे पति ने किसी दूसरी लड़की को अपनी पत्नी बनाकर फर्जी तरीके से तलाक ले लिया है।
तो वहीं बबीता अहिरवार के पति प्रवीण कुमार निवासी झांसी का कहना है कि मैं  झांसी में नौकरी करता हूं और बबीता  मुझसे  कहती है  की झांसी से 50 किलोमीटर दूर किराए का मकान लेकर रहो लेकिन मैं जिस जगह नौकरी करता हूं वहां से मुझे परमिशन नहीं मिल रही है और बबीता जिद पकड़े हुए हैं कि वही आकर रहो। उसने बताया कि आज हम सागर आए थे। हमारा धारा 13 के तहत मामला चल रहा था न्यायालय ने आदेश किए थे कि आप अपनी पत्नी को साथ ले जाओ लेकिन मेरी पत्नी ने मना कर दिया और बाहर आते ही मेरे साथ मारपीट करने लगी।

... रिपोर्ट - हेमंत आठिया।(सागर मध्यप्रदेश)