Ad

ads ads

Breaking News

फसल बीमा से किसानों को नहीं मिला लाभ,कांग्रेस ने कचहरी परिसर में धरना देकर ज्ञापन सौपा



देवरीकलाँ। विगत एक वर्ष से खरीफ फसलों के बीमा दावे एवं सूखा राहत राशि
का इंतजार कर रहे क्षेत्र के कई ग्रामों के कृषको को मायूसी हाथ लगी है। शासन
के दावों की पोल रहे इन ग्रामों में किसानों को महज 4 सौ से 5 सौ रूपये ही दावा
राशि स्वीकृत की गई है। वही विकासखण्ड में सैकड़ों कृषक ऐसे भी है जिनका नाम
सूची में ही नही है। फसल बीमा दावे में इन्ही विसंगतियों को लेकर कांग्रेस के सभी
मोर्चा प्रकोष्ठो ने कचहरी परिसर में धरना देकर राज्यपाल के नाम तहसीलदार को
ज्ञापन सौपा।

फसलों के बरबाद होने के 1 वर्ष बाद मिली प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की दावा
राशि क्षेत्र को लेकर क्षेत्र के कुछ कृषक संतुष्ट है तो कुछ कृषको में निराशा व्याप्त
है। विकासखण्ड के लगभग कई ग्रामों में बीमित राशि के एवज में कृषको को दिया
गई राशि मजाक साबित हो रही है विकासखण्ड के ग्राम समनापुर शाहजू में कृषक
अंजना/महेन्द्र को बीमित धन 24 हजार के ऐवज में महज 480 रूपये बीमित राशि
स्वीकृत की गई। वही ग्राम तीतरपानी के उधम राजाराम को 46 हजार बीमा धन
से 924 रूपये स्वीकृत किये गये। झमारा ग्राम के निवासी श्रीकृष्ण मकुंदी को 48 हजार
बीमा धन से 960 रूपये दावा राशि स्वीकृत की गई। ग्राम मढ़पिपिरया के निवासी राजेश
लोकनाथ को 60 हजार बीमा धन से 12 सौ रूपये दावा राशि एवं दिनेश लोकनाथ
को 56 हजार बीमाधन से 1122 रूपये दावा राशि प्राप्त हुई। विकासखण्ड के ग्राम कई
ग्रामों में कृषको को मिली न्यून दावा राशि को लेकर भारी असंतोष व्याप्त है विकासखण्ड
के सैकड़ों कृषको को बीमा दावा सूची में स्थान ही प्राप्त नही हो सका है। मसूरवारी
ग्राम के निवासी वीरेन्द्र पिता बैजनाथ सिंह राजपूत की 4.5 एकड़ भूमि है उनकी
फसल क्षतिग्रस्त होने के बाद भी दावा सूची में उनका नाम दर्ज नही है। प्रधानमंत्री
फसल बीमा योजना में हुई विसंगतिया चौकाने वाली है हल्का पटवारी, कृषि विस्तार
अधिकारी की रिर्पोट में शत प्रतिशत नुकसानी वाले ग्रामों को भी दावा राशि से
महरूम रखा गया है जिसके चलते कृषको में नाराजगी है।

कांग्रेस ने 3 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौपा

विकासखण्ड में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, भावान्तर योजना एवं सूखा राहत
कार्यक्रम में अनियमिताओं को लेकर क्षेत्रीय विधायक की अगुवाई में कांग्रेस के
सभी मोर्चा प्रकोष्ठो द्वारा तहसील परिसर में घरना देकर राज्यपाल के नाम तहसीदार
को ज्ञापन सौपा गया। ज्ञापन में कहा गया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में
क्षेत्र के अधिकतर ग्राम मढ़पिपरिया, किशनपुर, मोरिया, जमुनिया, खमरिया, मुआरखास
सहित अन्य ग्रामों में कृषको को दावा राशि या तो न्यून प्राप्त हुई है या तो उन्हे राशि
से वंचित रखा गया है। कुछ कृषको का प्रीमियम राशि से कम दावा राशि प्रदाय की
गई है। ज्ञापन में कहा गया कि आपदा पीड़ित अधिकांश कृषको स्वीकृत सूखा राहत 
राशि आज दिनांक तक प्राप्त नही हो सकी है उन्हे शीघ्र राहत राशि प्रदाय की जाये।
भावांतर की राशि कृषको के खाते में शीघ्र जमा कराई जाये। इस अवसर पर
कांग्रेस ब्लाक अध्यक्ष विजय गुरू, नगर अध्यक्ष संजय बृजपुरिया, आशीष राजौरिया
रामनारायण दुबे, रोहित स्थापक, सुधीर श्रीवास्तव, विजय दुबे, राजकुमार बजाज, अनिल मिश्रा,
अनंतराम रजक,गौरव पाड़े, यश राजपूत, सौरभ नामदेव, पवन लोधी, मुकेश कोष्टी,
सुरेन्द्र वैरागी, नईम खान, अप्पू चौधरी, विजय गोवा, रामकृष्ण लोधी, कलू सकवार,
सुनील टिकरया सहित सुरेन्द्र राजपूत, कुडेरिया मासाव, भूपेन्द्र कुमार चौबे, जगदीश पटैल,
मनीस यादव, अभिषेक राजपूत, अमोल सिंह पटैल, बदनसींग यादव, संतोष पटैल, मनोज यादव,
उमेश कुर्मी, लखन यादव, सुनील यादव, भुवनेन्द्र लोधी, सत्यनारायण मिश्रा, गुड्डू
यादव, जगदीश पटेल, सुरेन्द्र राजपूत, भूपेन्द्र चौबे, साबिर खान सहित युवक कांग्रेस, किसान कांग्रेस एवं 
एनएसयूआई के कार्यकर्ता एवं बड़ी संख्या में कृषक उपस्थित थे।
.... रिपोर्ट- राकेश यादव, देवरी,सागर मध्यप्रदेश

No comments