Ad

ads ads

Breaking News

स्मृति ईरानी की सांसद निधि का दुरुपयोग, DM ने वापस मंगवाए 5 करोड़

स्मृति ईरानी और उनके स्टाफ ने शारदा मजूर कामदार सहकारी मंडली को ठेका देने के लिए अधिकारी को मजबूर किया।





डेस्क। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर कांग्रेस ने गंभीर आरोप लगाए हैं, गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष अमित चावड़ा ने राज्यसभा सांसद स्मृति ईरानी पर सांसद निधि के दुरुपयोग का आरोप लगाया है।

इस संबंध में आंकलव सीट से विधायक अमित चावड़ा ने एक साथ कई ट्वीट किए हैं जिसमें उन्होंने स्मृति ईरानी को लेकर गंभीर इल्जाम लगाए हैं।
उन्होंने ट्वीट में लिखा है, स्मृति ईरानी ने आनंद जिले के माघरोल गांव को मॉडल बनाने के लिए गोद लिया था और उन्होंने इसे भ्रष्टाचार और सत्ता के दुरुपयोग का बेहतरीन मॉडल बनाने का काम किया है।


सांसद निधि का दुरुपयोग

अमित चावड़ा ने एक और ट्वीट में स्मृति ईरानी पर अपनी सांसद निधि के दुरुपयोग का भी आरोप लगाया है, गुजरात से राज्यसभा सांसद स्मृति ईरानी पर चावड़ा ने आरोप लगाया। स्मृति ईरानी और उनके स्टाफ ने शारदा मजूर कामदार सहकारी मंडली को ठेका देने के लिए अधिकारी को मजबूर किया।

नियमों का उल्लंघन

अमित चावड़ा ने अपने एक और ट्वीट में स्मृति ईरानी पर योजना के नियमों का उल्लंघन करने का आरोप भी लगाया उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, 'PMLAD' स्कीम के तहत एक ग्रुप को 50 लाख रुपये से ज्यादा के ठेके नहीं दिए जा सकते इस नियम का भी उल्लंघन किया गया और उसे तय सीमा से ज्यादा रकम के ठेके दिए गए।

2017 में उठाया था मुद्दा

अमित चावड़ा ने एक ट्वीट में ये भी बताया कि उन्होंने 2017 में यह मुद्दा उठाया था चावड़ा ने ट्वीट किया मैंने गुजरात हाई कोर्ट में 2017 में एक जनहित याचिका दायर की थी और धन व सत्ता के दुरुपयोग का यह मामला सामने लाया था।
 
अब मैं खुश हूँ

इस संबंध में अपने अंतिम ट्वीट में अमित चावड़ा ने मामले में कार्रवाई का जिक्र किया चावड़ा ने ट्वीट में लिखा, आज मैं बहुत खुश हूं कि आणंद जिला कलेक्टर ने स्मृति ईरानी के प्रतिनिधि शारदा माजूर कामदार सहकारी मंडली को 4.8 करोड़ रुपये 18टी% ब्याज की दर से जमा कराने का आदेश जारी किया है। चावड़ा ने गुजराती भाषा में लिखा एक पत्र भी ट्वीट के साथ शेयर किया है।


https://twitter.com/AmitChavdaINC/status/1002894444721418240

No comments