Ad

ads ads

Breaking News

विश्व पर्यावरण दिवस 2018: 'बीट प्लास्टिक पोल्यूशन' पर होगी चर्चा


डेस्क। अगर दुनिया में तेजी से फैलते प्रदूषण पर काबू नहीं किया गया, तो वह दिन दूर नहीं जब हमारा सांस लेना दूभर हो जाएगा। 5 जून को दुनियाभर में पर्यावरण दिवस मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का मकसद है दुनिया वालों को पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण के प्रति जागरूक करना।  वैसे इस दिन को दुनियाभर में मनाने की घोषणा संयुक्त राष्ट्र ने वर्ष 1972 में की थी, लेकिन पहला विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून 1974 को मनाया गया था कल 5 जून 2018 को 45वां विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जा रहा है। विश्व पर्यावरण दिवस की शुरूआत पर्यावरण की सुरक्षा और उसके संरक्षण के लिए की गई थी। विश्व पर्यावरण दिवस मनाने के पीछे यह उद्देश्य है कि लोगों को इस बारे में जागरूक किया जा सके कि आखिर क्यों पर्यावरण की सुरक्षा जरूरी है? इस मौके पर पूरी दुनिया में अलग-अलग तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इन कार्यक्रमों के दौरान पौधारोपण से लेकर पर्यावरण जागरूकता के कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं और साथ ही पर्यावरण को कैसे संरक्षित रखना है, इस बारे में विचार-विमर्श होता है। पिछले कई वर्षो से पानी के संकट से जूझ रहा भारत पर्यावरण दिवस को इस बार होस्ट कर रहा है। विश्व पर्यावरण दिवस 2018 की थीम 'बीट प्लास्टिक पोल्यूशन'
रखी गई है।
प्लास्टिक से पर्यावरण को होने वाले नुक़सान के बारे में इस बार चर्चा होगी साथ ही प्लास्टिक से पर्यावरण को बचाने के उपायों के उपायों को भी ढूंढा जाएगा।

No comments