Ad

ads ads

Breaking News

बिठूर से गंगाजल लेकर तिरंगा संकल्प यात्रा निकालेगें शिक्षामित्र

उन्नाव। कानपुर नगर, कानपुर देहात, औरैया, फर्रुखाबाद, हमीरपुर, फतेहपुर आदि जिलों के शिक्षामित्र कानपुर के बिठूर से गंगाजल लेकर तिरंगा संकल्प यात्रा निकाल रहे हैं। जनपद के रामलीला मैदान गांधीनगर में सभी शिक्षामित्र एकत्र होंगे। पंडित दयाल त्रिपाठी की मूर्ति को गंगा जल से स्नान कराकर उनका माल्यार्पण करेंगे।
डेंगू दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन
इसके बाद यहां से यहां से मोटरसाइकिल द्वारा लखनऊ हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा तक जाएंगे। जहां पर एक बार फिर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को गंगा जल से स्नान करवाएंगे और उनका माल्यार्पण कर अपनी संकल्प तिरंगा यात्रा का समापन करेंगे। इस मौके पर शिक्षामित्र शासन को आगामी 1 जून से होने वाली वृहद आंदोलन का संकेत देंगे। शिक्षामित्रों का कहना है कि इस संकल्प तिरंगा यात्रा का मकसद योगी सरकार तक शिक्षामित्रों का संदेश पहुंचाना है। अगर शासन शिक्षामित्रों के पक्ष में कोई निर्णय नहीं लेता है तो आगामी 1 जून को लखनऊ की सड़कों पर शिक्षामित्रों का जन सैलाब उमड़ आएगा। जिसकी सारी जिम्मेदारी शासन व प्रशासन की होगी।
1 जून को उमड़ेगा जनसैलाब
उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के जिला अध्यक्ष सुधाकर तिवारी ने बताया कि आगामी बुधवार 16 मई को तिरंगा संकल्प यात्रा निकाली जा रही है। तिरंगा संकल्प यात्रा में प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के शिक्षक बिठूर से गंगाजल लेकर के उन्नाव होते हुए लखनऊ गांधी प्रतिमा तक शांति मार्च करेंगे। मोटर साइकिल के द्वारा होने वाली तिरंगा संकल्प यात्रा शासन - प्रशासन को एक सांकेतिक संदेश देने की कोशिश है। उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा समायोजित शिक्षामित्रों के लिए कुछ भला कर दिया जाए तो ज्यादा अच्छा है।
 सरकार शिक्षामित्रों के लिए ले सकारात्मक निर्णय
आगामी 1 जून को लखनऊ की धरती पर पूरे प्रदेश से शिक्षामित्रों का जनसैलाब उमड़ेगा। लखनऊ की धरती पर शिक्षामित्र अपनी बात पूरे जोश के साथ रखने के लिए बाध्य होंगे। इसकी संपूर्ण जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी। सुधाकर तिवारी ने कहा कि अपने हितों के लिए उत्तर प्रदेश का शिक्षा मित्र मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश से विनम्र निवेदन कर रहा है कि संपूर्ण जीवन के लिए रोजी रोटी का प्रबंध कर दे। जो आज की तिथि में सरकार के लिए कोई बड़ी बात नहीं है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के शिक्षामित्र विगत 17-18 साल बेसिक में अपना पूरा जीवन लगा दिया है। उन्होंने शिक्षामित्र साथियों से बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने की अपील की है। इस मौके पर कुलदीप शुक्ला, रामेंद्र द्विवेदी, अनूप यादव ज्ञान दीक्षित, संतोष द्विवेदी आदि मौजूद थे।

No comments