Ad

ads ads

Breaking News

द्वारपूजन के दौरान दूल्हे की मौत का वायरल वीडियो झुठला रहा हर्ष फायरिंग

लखीमपुर खीरी नीमगांव क्षेत्र के रामपुर गांव में रविवार रात हुई हर्ष फायरिंग  में दूल्हे की मौत हत्या या हादसा के बीच बुरी तरह से उलझ गई है। मौके का वायरल वीडियो हत्या का संदेह उत्पन्न कर रहा है। और वही परिवारीजन भी हत्या आरोप लगा रहे हैं। हालांकि हत्या का मोटिव अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है। पुलिस इसे हादसा मान कर आरोपित के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है।
बतादे कि रामपुर गांव में रविवार रात रविंद्र वर्मा की पुत्री रूबी वर्मा की बरात में द्वारपूजन के दौरान गोली लगने से दूल्हा सुनील वर्मा उर्फ सोनू पुत्र राधेश्याम निवासी हाजीपुर की मौत हो गई थी। गोली सुनील के दोस्त रामचंद्र की लाइसेंसी रिवाल्वर से चली थी। वीडियो में साफ दिख रहा है कि रिवाल्वर की नाल सीधे दूल्हे की तरफ है। राधेश्याम ने हत्या का आरोप लगाते हुए कहा कि रामचंद्र से ये उम्मीद नहीं थी। रामचंद्र का सीतापुर के इमलिया कचनार में मेडिकल स्टोर है जबकि सुनील एमआर होने के चलते उसके यहां दवाइयां सप्लाई करता था। इसी के चलते दोनों में दोस्ती भी थी। रामचंद्र के बड़े भाई की ससुराल सोनू के गांव हाजीपुर में है। राधेश्याम ने रामचंद्र के एक साले को भी दोषी ठहराया है।
वहीं पुलिस ने मंगलवार को दोपहर बाद रामचंद्र को सीतापुर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इंस्पेक्टर शमशेर बहादुर सिंह का कहना है कि गोली चल जाने से दूल्हे की मौत हुई है और आरोपित ने भी गलती से गोली चलने की बात को स्वीकारी  है।
एएसपी घनश्याम चौरसिया के मुताबिक वायरल वीडियो में जरूर ये हर्ष फायरिंग नहीं दिख रही लेकिन इसके दो वायरल वीडियो हैं एक  वीडियो में कारतूस लोड करते वक्त जो दिख रहा है उससे साफ मालूम चल रहा है कि ये शौकिया लाइसेंसी है। अभी विवेचना जारी है। वायरल वीडियो पर एक्सपर्ट की राय भी ली जा रही है। साक्ष्य मिलते ही इसमें संबंधित फेरबदल व कार्रवाई की जाएगी। लेकिन दूल्हे के परिवारीजन पुलिस की इस कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं। मृतक के छोटे भाई श्यामबिहारी ने बताया कि उसके भाई की हत्या की गई है। लेकिन पुलिस ने हत्या की रिपोर्ट दर्ज न करके केस को कमजोर कर दिया।
वही हत्या की ओर इशारा करते तथ्य -
एक गोली मिस होने के बाद दूसरे फायर पर भी आरोपित का निशाना दूल्हे का सीना ही रहा।
 गोली लगने के बाद भी आरोपित रिवाल्वर संभाल कर रखता है
 बजाय दूल्हे को इलाज के लिए ले जाने के वहां से फरार हो जाता है।
 अमूमन शादी.ब्याह में गाडिय़ां बेतरतीब खड़ी हो जाती हैं लेकिन आरोपित की कार पहले से मोड़कर स्टार्ट करते ही निकल जाने को तैयार खड़ी थी। 
इसलिए माना जा रहा हादसा -हत्या करने का कोई मोटिव स्पष्ट नजर नहीं आ रहा है।
परिवार के लोग हत्या का आरोप तो लगा रहे हैं लेकिन रंजिश से इन्कार कर रहे हैं।
सुनील वर्मा की शादी में कुछ बिना बुलाए मेहमान भी थे। सुनील के एक नजदीकी दोस्त ने बताया कि शादी में कुछ ऐसे मेहमान भी न केवल आए थे बल्कि द्वारचार के वक्त वहीं पर खड़े थे।
एक आरोपी रामचंद्र के साथ ही आया था और दूसरा औरंगाबाद क्षेत्र से आए एक युवक के साथ महोली सीतापुर से आया था।
इतना ही नहीं दूल्हे के गोली लगने के बाद भी आरोपित का बड़े आराम से अपना रिवाल्वर संभाल कर रखना और बजाय अपनी गलती के अहसास और दूल्हे को इलाज के लिए ले जाने में तत्परता दिखाने के बजाय वहां से फरार हो जाना पूरे मामले में दूल्हे की हत्या की ओर इशारा कर रहा है। वीडियो में पहली गोली पर दूल्हा चौंककर आरोपित की तरफ देखता है। तबतक  इसी बीच दूसरी गोली चल जाती है और दूल्हा सीना पकड़ कर गिरने लगता है। इसी दौरान मौका पाकर आरोपित भाग जाता है। वही दूसरी ओर पुलिस ने इस मामले में आरोपित मेडिकल स्टोर संचालक रामचंद्र पर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर मंगलवार को उसे जेल भेज दिया। लेकिन दूल्हे के परिवारीजन पुलिस की इस कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं। वायरल वीडियो की पड़ताल व परिवारीजन के बयानों पर गौर किया जाए तो दूल्हे की मौत गहरी साजिश की ओर इशारा कर रही है।
नीमगांव थाना क्षेत्र के रामपुर गांव में रविवार रात रविंद्र वर्मा की पुत्री रूबी वर्मा की बारात में द्वारपूजन के दौरान गोली लगने से दूल्हा सुनील वर्मा निवासी सीतापुर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। पुलिस ने रात में ही परिवारीजन को थाने बुलाकर तहरीर लिखवा ली और गैरइरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली। तहरीर लेखक ने बताया कि इंस्पेक्टर ने तहरीर लिखवाई जबकि दूल्हे के पिता हत्या किए जाने की बात कहते रहे। लेकिन पुलिस ने एक न सुनी। अगले दिन पुलिस ने आरोपित रामचंद्र को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।  
वही छोटे भाई का आरोप कि हत्या की गई  द्वारपूजन के दौरान चली गोली से दूल्हे सुनील की मौत के बाद उसके गांव हाजीपुर में परिवार का रो रो कर बुरा हाल है। सुनील के छोटे भाई श्यामबिहारी ने बताया कि भाई की हत्या की गई है। उसके माता पिता बीमार पड़ गए हैं। दोनों का इलाज चल रहा है। दूल्हे की मौत के बाद दुल्हन बनी बैठी रूबी के ऊपर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। पूरे गांव में चारो ओर सन्नाटा पसरा है।  
हर्ष फायरिंग नहीं दिख रही एएसपी  घनश्याम चौरसिया ने बताया कि वीडियो में ये हर्ष फायरिंग नहीं दिख रही लेकिनए इसके दो वायरल वीडियो हैं। एक वीडियो में कारतूस लोड करते वक्त जो दिख रहा है उससे साफ मालूम चल रहा है कि आरोपित शौकिया लाइसेंसधारी है। फ़िलहाल विवेचना जारी है। 



No comments