Ad

ads ads

Breaking News

44,510 लाख पर चर्चा के साथ,जिला योजना समिति की बैठक संपन्न

उन्नाव -  वित्तीय वर्ष 2018-19 के अंतर्गत जिला योजना समिति की बैठक प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में आयोजित हुई, जिसमें जनपद के लगभग 44 विभागों की कार्ययोजना एवं संरचना एवं प्रस्तावित परिव्यय 44510 लाख पर चर्चा की गई जो विगत वर्ष 2017-18 में 42395 लाख थी ।
प्रभारी मंत्री ने उपस्थित सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा जिन विभागों की कार्ययोजना प्रस्तावित परिव्यय के सापेक्ष्य अनुमोदित की गई है उसे अपने विभागाध्यक्ष एवं शासन से आवश्यक दिशानिर्देश प्राप्त करते हुये जो लक्ष्य निर्धारित किये गये हैं उन्हे समय से पूरा किया जाए, यदि किसी भी मामले में किसी तरह की समस्या आती है तो जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी के संज्ञान में लाते हये तत्काल निराकरण कराया जाए । शासन की जो भी जनकल्याणकारी योजनायें हैं उन्हे पूरी प्रथमिकता के साथ ससमय लागू किया जाए। यह भी सुनिश्चित कर लिया जाए कि योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्ति को मिले यदि किसी स्तर पर अपात्र व्यक्ति को लाभ दिये जाने की शिकायत प्राप्त होती है तो उसके विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी।
जिला योजना समिति वर्ष 2018-19 के विभागवार विस्तृत रूप से राज्य के संसाधनो से वित्तीय वर्ष 2018-19 के प्रस्तावित परिव्यय 44510 लाख पर चर्चा के दौरान समीक्षा करते हुये सर्वप्रथम कृषि को 26 लाख, लघु सिचाईं 2283 लाख, पशुपालन 300लाख, दुग्ध विकास 122.66 लाख, वन 916.08 लाख, राष्ट्रीय ग्रामीण आजिविका अभियान 1375 लाख, भूमि विकास एवं जल संसाधन 50 लाख, महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी कार्यक्रम के तहत 7000 लाख, पंचायती राज 720 लाख, निजी लघु सिचाईं 2483 लाख, राजकीय लघु सिचाई 82 लाख, अतिरिक्त उर्जा स्रोत 121.77 लाख, सडक एवं पुल 3644.55 लाख, प्राथमिक शिक्षा 2706.59 लाख, माध्यमिक शिक्षा 532.50 लाख, खेल-कूद 122.50 लाख, परिवार कल्याण 500 लाख, ग्रामीण आवास प्रधान मंत्री आवास 9600 लाख,  ग्रामीण स्वच्छता कार्यक्रम 4675.67 लाख, समाज कल्याण 1565 लाख, प्रबोशन 490 लाख, जैसे प्रमुख विभागों का प्रस्तावित परिव्यय अनुमोदित किया गया है।
जिलाधिकारी रवि कुमार एन0जी0 ने सदन में उपस्थित सासंद साक्षी महाराज, जिला पंचायत अध्यक्ष संगीता सेगंर, विधायक पुरवा अनिल सिंह, एम0एल0सी0 अरूण पाठक, राज बहादुर सिंह चंदेल, जिला पंचायत सदस्य, योजना समिति के सदस्य एवं जनप्रतिनिधियों के उपस्थित पदाधिकारियों को अवगत कराया कि जिला योजना समिति वर्ष 2018-19 के प्रस्तावित परिव्यय 44510 लाख को जनपद के विभिन्न विभागों द्वारा कृषि, उद्यान, पशुपालन आदि क्षेत्र में व्यापक स्तर पर योनाबद्ध तरीके से कार्य कराया जायेगा कुछ मामलो में मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में समिति का गठन कर जनकल्याणकारी योजनाओं को लागू कराया जायेगा। उन्होने कहा कि जिन क्षेत्रोें में शिकायते जनप्रतिनिधियो द्वारा की गई हैं उनकी जांच कराकर सम्बन्धित के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। पेय जल समस्या, तालाबों में पानी भराये जाने, टीकाकरण, आवासों का निर्माण, शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता, पेंशन जैसी योजनाओं को तत्काल लागू कराये जाने के निर्देश सम्बन्धित विभाग के अधिकारियो को दिये गये हैं ।
जिला योजना समिति की बैठक में पमुख रूप से मुख्य विकास अधिकारी प्रेम रंजन सिंह, पुलिस अधीक्षक हरीश कुमार, जिला विकास अधिकारी चित्रसेन सिंह, जिला अर्थसंख्या अधिकारी राजदीप वर्मा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 लालता प्रसाद, चिकित्सा अधीक्षक जिला चिकित्सालय डा0 एस0पी0 चैधरी, जिला प्रबोशन अधिकारी रेनू यादव, सहायक निदेशक सूचना रेखा रानी अरोडा सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी, कर्मचारी एवं जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे। 

No comments