Ad

ads ads

Breaking News

लूटपाट का विरोध करने पर बदमाशो ने पुजारी को उतारा मौत के घाट

-घटना से ग्रामीणों में आक्रोश व भय व्याप्त 
उन्नाव। फतेहपुर चैरासी थाना क्षेत्र के अन्तर्गत नगर पंचायत ऊगू में देर रात लूट पाट करने आए लुटेरों ने विरोध करने पर सती देवी मंदिर के पुजारी की ईंटें से कूच कर हत्या कर दी। सुबह जब वृद्ध का नाती व गांव का अन्य युवक जब मंदिर आया तो पुजारी को क्षत विक्षत देख उसके होश उड़ गए। वहीं सूचना मिलने पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना फतेहपुर चैरासी थाना क्षेत्र के अन्तर्गत नगर पंचायत ऊगू के प्राचीन मंदिर सती देवी में वृद्ध पुजारी शीतलाप्रसाद करीब चालीस सालों से मंदिर में पूजा पाठ कर रहें थे। उनसे पहले उनके पिता स्व हरिशंकर उर्फ जंगली पुजारी के तौर पर आजीवन पूजा कार्य करते रहे। शनिवार की देर रात पुजारी शीतलाप्रसाद को रोजाना की भांति दैनिक कार्य के तौर पर सभी कार्य कर हमेशा की तरह अदंर की तरफ से बंद करा उसके नाती रमेश  व गांव का युवक हरि प्रसाद घर चले गए। 
इसी बीच मंदिर में लुटेरों ने धावा बोल दिया। मंदिर के द्वार पर रखा दान पात्र की जंजीर तोड़ उसे लूट कर मंदिर में विराजमान देवी के आभूषणो ंको लूटने की नियत से मंदिर का द्वार तोड़ डाला। तथा आभूषण लूटने की कोशिश करने लगे। इसी बीच पुजारी शीतला प्रसाद ने विरोध करना चाहा, लुटेरों ने मंदिर प्रांगण में पड़ी ईटों से उस पर वार कर दिया। जिससे वह मंदिर में ही गिर पड़ा। लुटेंरे मंदिर में मौजूद बहुमूल्य आभूषण आदि लूट चलते बने। सुबह रोजाना की भांति पुजारी का नाती उसके नाती रमेश  व गांव का युवक हरि प्रसाद मंदिर आया तो उसके पैरो तले जमीन खिसक गई। पुजारी के मृत शरीर को मंदिर के प्रांगण में पड़ा देख दोनो ने दौड़ कर घर व अन्य को मामले की सूचना दी। जिस पर पुजारी के घर में कोहराम मच गया। वहीं मामले की सूचना पुलिस को दी। जिस पर सूचना मिलते ही  घटना स्थल पर  एस पी पुष्पांजलि देवी, अपर पुलिस अधीक्षक व एसडीएम सफीपुर व 6 थानो की फोर्स व डॉग स्काट मौके पर पहुच गई। पुलिस कर्मियों ने मौके पर छानबीन की। पुलिस सूत्रो के अनुसार लुटेरों ने मंदिर से आभूषण सहित कीमती सामान लूट पाट कर पुजारी की हत्या की हैं। वही उनके अनुसार लूटपाट करने वाले मंदिर से जुड़े या नजदीकी हो सकते हैं। 
----------------------