Ad

ads ads

Breaking News

कोहराम के बीच सरकारी कर्मी पानी बहा रहे सडकों पर

टीकमगढ़/मध्यप्रदेश। प्रदेश सरकार के लाख दावे के बावजूद पूरे प्रदेश में अराजकता  का माहौल व्याप्त हो चला है। जहाॅ जनता में पीने के लिए पानी को लेकर कोहराम मचा हुआ है। वहीं प्रशासन न तो गलती मानने को तैयार है, और न ही भूल सुधारने को सक्रियता ही दिखा रहा है। वहीं इसकी बानगी आज उस समय नगर परिषद टीकमगढ़ में तब देखने को मिली, जब परिसर में कर्मियों की लापरवाही के चलते हजारों गैलन पानी बर्बाद हो गया। वहीं सूत्रों की मानी जाए तो यह तो आम दिनों की समस्या है। वहीं बूंद बूंद पानी को तरसती जनता में इस घटना को लेकर बेहद आक्रोश है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार टीकमगढ़ी नगर परिषद निवाड़ी कार्यालय परिसर से पूरे शहर को पानी सप्लाई होता है। जिसकी सप्लाई के लिए  कर्मी तैनात किए गए है। ये कर्मी अधिंकाश टंकी को भरने के लिए मोटर चालू कर कहीं निकल जाते हैं। वहीं टंकी ओवरफ्लो हो जाने के बाद पूरे परिसर में पानी बहने लगता है। जिससे आसपास पानी भर जाता है। वहीं अधिकारियों के सामने माजरा होने के बाद भी संबधित कर्मियों पर कारवाई करने में कोई रुचि नहीं दिखा रहे हैं।
बताते चले पूरे शहर में पानी की किल्लत होने के चलते लोगों  को बर्बाद पानी नहीं मिल पा रहा है। पूरे शहर में जगह जगह पानी के सरकारी हैंड पंपों से कीचड़ निकलने लगा है। आम नागरिको में पीने के पानी के लिए इधर उधर देखना पड़ रहा है। वहीं नगर परिषद निवाड़ी में  जिस तरह से पीने के पानी को सड़को में बहाया जा रहा है। वह बेहद दुखद है।


...........रिपोर्ट: खूबचंद राजपूत 
टीकमगढ़ मध्यप्रदेश

No comments