Ad

ads ads

Breaking News

चार साल पहले फरार सामूहिक दुष्कर्म आरोपी आये फिरफ्त में

उन्नाव। मुंबई के शांताक्रुज क्षेत्र में चार साल पहले किशोरी को बंधक बनाकर सामूहिक वारदात को अंजाम देने वाला शनिवार रात पुलिस के हत्थे चढ़ गया। शांताक्रुज पुलिस उसे मुंबई ले जाने के लिए कोर्ट से ट्रांजिट रिमांड ले रही है। उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र के परसंदा निवासी होरीलाल वर्ष 2013 में मुंबई पैसा कमाने गया था। यहां शांताक्रुज थाना क्षेत्र के शंभू सेठ चाल सलीम वाली गली गजरधरबाग में रहकर वह आटो चलाने लगा। इस दौरान होरीलाल की कई अन्य आटो चालकों से दोस्ती हो गई। दो अप्रैल 2014 को होरीलाल ने दो अन्य साथियों उमेश वर्मा और विशाल के साथ मिलकर पड़ोस में रहने वाली 16 साल की किशोरी को अगवा कर तीन दिन तक बंधक बना कर सामूहिक वारदात को अंजाम दिया। घरवालों ने शांताक्रुज थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। तीनों ने पुलिस से बचने के लिए मुंबई छोड़ दी। होरीलाल अपने गांव आ गया और यहीं रहने लगा। उसने अपने गुनाह की परिवारीजन को भनक तक नहीं लगने दी। उधर मुंबई के शांताक्रुज थाना की पुलिस होरीलाल की तलाश कर रही थी। बीते  शनिवार को शांताक्रुज थाने के एएसआइ सुजीत कुमार राड़े, पुलिस नायक विजय कुमार सिंदरका और कांस्टेबल विश्राम महाजन के साथ बिहार थाने पहुंचे और कोतवाल मो. अशरफ से संपर्क कर आरोपित की गिरफ्तारी में मदद मांगी। इंस्पेक्टर मो. अशरफ ने देर रात फोर्स के साथ होरीलाल के घर दबिश देकर उसे दबोच लिया और
कोतवाली ले आए। इंस्पेक्टर ने बताया कि तीन दिन की कोर्ट से ट्रांजिट रिमांड लेकर मुंबई पुलिस आरोपित को अपने साथ ले जाएगी। 

No comments