Ad

style="width:640px;height:100px;" alt="ads" /> ads

Breaking News

अभिलेखों में हेराफेरी को लेकर पूर्व मंत्री पर सम्मन जारी

इलाहाबाद। पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान ने रेवेन्यू बोर्ड यूपी के उस फैसले को इलाहाबाद हाईकोर्ट में चुनौती दी है। इस फैसले में रेवन्यू बोर्ड ने आजम खान के खिलाफ वाद चलाये जाने की अनुमति दे दी है। पूर्व मंत्री ने अपनी याचिका में राज्य सरकार के साथ ही शिकायतकर्ता आकाश सक्सेना को भी पक्षकार बनाया है। मामले की सुनवाई 19 अप्रैल को इलाहाबाद हाईकोर्ट में होगी।
गौरतलब है कि रेवेन्यू बोर्ड यूपी ने बीते माह 16 मार्च को आजम खान पर वाद चलाये जाने की अनुमति दे दी थी। दरअसल पूर्व मंत्री आजम खान के खिलाफ चकरोड पर अवैध कब्जा करने की शिकायत आकाश सक्सेना की थी। शिकायत कर्ता आकाश सक्सेना ने डीएम को दिए गए शिकायती पत्र में पूर्व मंत्री आजम खान पर ग्राम सभा के चकरोड की भूमि को राजस्व अभिलेखों में हेराफेरी कर कब्जा करके का आरोप लगाया था। पूर्व मंत्री पर चकरोडों को अपने निजी जौहर विश्वविद्यालय में सम्मिलित किए जाने का भी गम्भीर आरोप है। इस सम्बन्ध में डीएम रामपुर ने राजस्व बोर्ड इलाहाबाद में 4 वाद दायर किए थे। मामले में आजम खान के जवाब से संतुष्ट न होते हुए रेवेन्यू बोर्ड ने 16 मार्च को अपने आदेश में पूर्व मंत्री के खिलाफ वाद चलाये जाने की अनुमति दे दी थी। अब उसी आदेश के खिलाफ आजम खान हाईकोर्ट पहुंचे हैं।

No comments