Ad

ads ads

Breaking News

महिला पुलिसकर्मी पर पति ने डाला तेजाब

Desk - मुजफ्फरनगर के जानसठ में चिंदौड़ा गांव निवासी दिल्ली रेलवे पुलिस में महिला कांस्टेबल पर उसके पति ने तेजाब डालकर मारने का प्रयास किया। महिला को बचाने आई भतीजी भी तेजाब गिरने से झुलस गई। शोरशराबा होने पर आरोपी पति फरार हो गया। पुलिस ने दोनों घायलों को सीएचसी में  कराया भर्ती। जहां से चिकित्सकों ने गंभीर अवस्था में दोनों को जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया।
चिंदौड़ा गांव निवासी कोमल की शादी दरियाबाद के रहने वाले कपिल से वर्ष 2013 में हुई थी। शादी के बाद कोमल की दिल्ली रेलवे सुरक्षा बल में कांस्टेबल के पद पर नियुक्त हो गई थी। और  पति कपिल दिल्ली में किसी होटल में प्राइवेट नौकरी करता है। कोमल ने सितंबर 2016 में एक पुत्री को जन्म दिया। लेकिन बताया जा रहा है कि  बेटी होने से ससुराल पक्ष ने कोमल को ताने मारने शुरू कर दिए थे । इसी बात को लेकर पति व पत्नी में प्रत्येक दिन झगड़ा होने लगा था।
परिजनों का आरोप है कि आरोपी पति अतिरिक्त दहेज की मांग करने लगा था। मांग पूरी न होने पर कोमल के साथ मारपीट कर परेशान करता था । लेकिन  कोमल ने उसकी बात को अनसुना कर दिया और दोनों अलग अलग रहने लगे। कोमल ने अपनी पुत्री को अपनी बहन के यहां छोड़ दिया था। बृहस्पतिवार को कोमल अपने मायके आई हुई थी। शनिवार की सुबह कोमल का पति भी ससुराल में आया हुआ था उस समय कोमल का भाई अजीत भी घर पर ही था। कपिल ने अजीत को कुछ सामान मंगाने के बहाने से घर से बाहर भेज दिया।

बताया जा रहा है कि पति ने पत्नी की मुंह पर तेजाब फेंका। कोमल ने शोर मचाते हुए अपना मुंह दूसरी ओर कर लिया जिससे उसका हाथ और कमर पर तेजाब गिर गया जिससे वह बुरी तरह झुलस गई। कोमल की चीख पुकार सुन कर पर पड़ोस से उसकी भतीजी विमला  जैसे ही अंदर आई तो कपिल ने उसे  धक्का दे दिया जिससे विमला  फिसलकर चौक में पड़े तेजाब के ऊपर गिर गई जिससे वह भी बुरी तरह से झुलस गई। घर में शोर शराबा सुन कर पास पड़ोस के लोग तथा परिजन एकत्र हो गए।
ब तक आरोपी पति मौका देख कर फरार हो गया। परिजनों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली और घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया। जहां से चिकित्सकों ने उनको जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। सीओ एसकेएस प्रताप ने सीएचसी में पहुंचकर पीड़ितों से घटना की जानकारी ली। सीओ का कहना है कि तहरीर आने पर आरोपी के खिलाफ सख्त  कार्रवाई की जाएगी।