Ad

style="width:640px;height:100px;" alt="ads" /> ads

Breaking News

रेपिस्ट को कोर्ट ने सश्रम 10 वर्ष की सुनाई सजा

बलौदा - नाबालिग लड़की को बहला-फुसलाकर शादी का झांसा देकर उसके साथ लगातार शारीरिक संबंध बनाकर दुष्कर्म करने के आरोपी को आज प्रथम अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश ने भारतीय दण्ड संहिता की धारा 363 के तहत आरोपी को सश्रम 10 वर्ष की सजा सुनाई।
प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम मधुवन कला चौकी भटगांव की नाबालिग लड़की को गांव का ही आरोपी उमेश पुत्र मंशाराम अपने साथ बहला-फुसलाकर कोलकाता ले गया था, जहां नाबालिग की मांग में सिंदूर भरकर उससे शादी का नाटक और नाबालिग का शारीरिक शोषण करता रहा, आरोप सही पाए जाने पर जिसको आज कोर्ट ने सजा सुना दी।

No comments