Ad

ads ads

Breaking News

टला हादसा, पलटने से बची-आम्रपाली एक्सप्रेस

-अराजक तत्वों ने ट्रेन को पलटाने का किया प्रयास, आईजी रेलवे ने किया घटनास्थल का निरीक्षण

उन्नाव। कानपुर से लखनऊ जा रही आम्रपाली एक्सप्रेस को पलटने की साजिश ट्रेन लोको पायलट की सतर्कता से नाकाम हो गई। सूचना मिलने पर आईजी रेलवे व  पुलिस अधीक्षिका पुष्पांजलि देवी ने मौके पर जाकर टीम के साथ निरीक्षण कर सुराग तलाशे। मामले को लेकर जीआरपी ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले के गंगाघाट रेलवे स्टेशन पर गुरूवार करीब कानपुर से लखनऊ जा रही आम्रपाली एक्सप्रेस ट्रेन को अज्ञात अराजक तत्वो ने पलटाने का प्रयास किया। जिसके लिए डाउन ट्रैक पर अराजकतत्वों ने बड़ी पटरियां डाली थी। ट्रैक पर पटरियां देखने के बाद चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया। इसके बाद चालक ने कंट्रोल ओर डीआरएम को सूचना दी। इसके कारण ट्रेन वहां पर करीब 30 मिनट तक खड़ी रही। जीआरपी ने इस मामले में अज्ञात के खिलाफ साजिश का मुकदमा दर्ज किया है। हालांकि लोको ड्राइवर की सजगता से इमरजेंसी ब्रेक लगाने के कारण ट्रेन पलटने से बच गई। रिपोर्ट के मुताबिक वारदात गंगाघाट थाने के 66ः34खम्भे के पास देर रात करीब 2बजकर 45 मिनट पर घटी। अराजक तत्वों ने अमृतसर-कटिहार एक्सप्रेस को डिरेल करने के लिए ट्रैक पर 4.4 फीट के रेल के टुकडे डाले थे। जीआरपी प्रभारी सुबेदार यादव ने कहा कि ड्राइवर की समझदारी से एक बड़े हादसे को टाला जा सका।
सूत्रो के अनुसार गंगाघाट रेलवे स्टेशन पर बुधवार देर रात ट्रेन पलटाने की अराजकतत्वों की साजिश करने के पीछे एक गहरी साजिश हो सकती है। कानपुर से लखनऊ जा रही थी आम्रपाली एक्सप्रेस के ड्राइवर को डाउन ट्रैक पर पटरी के ऊपर बेड़ी पटरियां रखी दिखीं। कॉसन होने के कारण ट्रेन की गति काफी धीमी थी। ट्रेन के चालक ने तुरंत इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया। इसके बाद कंट्रोल रूम और डीआरएम को तत्काल सूचना दी। सूचना पर पहुंची रेलवे की पीडब्ल्यूआई की टीम ने ट्रैक साफ किया। 20 मिनट बाद ट्रेन को आगे रवाना किया गया। जीआरपी ने अज्ञात अराजकतत्वों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। घटना की जांच के लिए गुरुवार दोपहर 12 बजे एसपी उन्नाव पुष्पांजलि भी पहुंचीं। अराजकतत्वों की पड़ताल के लिए संयुक्त टीम गठित की गई है।
---------------------