Ad

ads ads

Breaking News

माॅ शैलपुत्री के दर्शन को उमड़ा जनसैलाब

उन्नाव। चैत्र नवारात्र के पहले दिन देवी भक्तों में उल्लास देखने को मिला। शहर में जगह जगह मंदिरों व घरों में कलश स्थापना के साथ वृत धारण के साथ पूजा पाठ में लग गए। नवरात्रि के पहले दिन शहर के सभी मदिंरो में भक्तों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। देर शाम तक मंदिरों में पूजन का कार्यक्रम अनवरत जारी रहा। 
शहर के दुर्गा मंदिर, माता संतोषी मंदिर, शीतला मदिंर कल्याणी मंदिर, माॅ पूर्णागिरि मंदिर धाम आदि में सुबह से भक्तों का जनसैलाब उमड़ पड़ा। भक्तों ने देवी मंदिर पंहुच कर दर्शन करते हुए मनोकामनाए पूर्ण करने की प्रार्थना की। इस दौरान मंदिरों के आसपास मेला लगा रहा। नगर पालिका के कर्मियों ने पहले से तैयारी कर रखी थी। जिसमें नगर पालिका की अध्यक्षा उषा कटियार के प्रतिनिधि मन्टो के दिशा निर्देशन में सभी मंदिरो की साफ सफाई कई दिनों से चल रही थीं। भक्तों ने सूबह उठ कर ध्यान स्नान आदि कर वृत की शुरूआत की। वहीं घरों में कलश की स्ािापना का दौर भी चलता रहा। अखण्ड ज्योति जलाते हुए माॅ की आराधना की शुरूआत हुई। देवी मंदिरो में सुबह से भजन कीर्तन आदि भक्तों ने शुरू कर दिए थे। जो कि अनवरत देर शाम तक चलते रहे। भक्तों के अनुसार यह क्रम पूरे नवरात्रि के दौरान चलता रहेगा। मां के प्रथम रूप शैलपुत्री पूजा अर्चना शुरू हो गई। मदिंरो के आसपास गोले नारियल आदि की दुकाने पहले से ही लग चुकी थी। वहीं लहंगा चुनरी आदि खरीद कर माता को चढ़ाते भक्त भक्ति भावना में लीन देखे गए। वहीं जिले में कुशेहरी देवी में भी बड़ी भीड़ देखी गई। करीब कई सैकड़ा की संख्या में भक्त सुबह ही दर्शन कर चुके थे। वहीं पुुजारियो के अनुसार पूरे दिन करीब कई हजार श्रद्धालु दर्शन करने पहुंच चुके है। नवाबंगज के भक्त सुरेश के अनुसार कुशेहरी देवी पर वे अटूट श्रद्धा रखते हैं। उन्होने कहा कि जो भी मनौती मानो वे पूरी करती है। वहीं बक्सर की देवी चंन्द्रिका में भी सुबह करीब पाॅच बजे से ही सैकड़ो की संख्या में श्रद्धालुओ ने लाइन लगा रखी थी। जो कि देर शाम तक कई हजार श्रद्धालुओ ने मां के दर्शन कर लिए थे। इसी क्रम में जिले करीब कई दर्जन मां के मदिंरों में भक्त श्रद्धालुओं का अपार जन सैलाब देखा गया। 
प्रशासन ने पहले से ही तैयारी कर रखी थी। जिसके चलते किसी को भी विशेष किसी प्रकार की कोई परेशानियों सामना नहीं करना पड़ा। पूरे जिलें में रविवार के दिन भक्ति की रसधार बही। रविवार के दिन छुट्टी होने के चलते भी मंदिरो में भीड़ अपेक्षाकृत अधिक देखने को मिली। जिसके चलते प्रशासन ने पहले से ही तैयारी कर रखी थी। सभी मदिंरों में सुरक्षा के लिए पुलिस कर्मियों व होमगार्ड जवानो को लगा रखा था। 
-----------------

No comments