Ad

ads ads

Breaking News

बसपा विधायक के ऐनवक्त पाला बदलने से राजनीतिक कैरियर में लगे प्रश्नचिंह

उन्नाव। बहुजन समाज पार्टी के विधायक अनिल सिंह का खुलकर भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में खड़े हो जाने के चलते जिले की राजनीति में भूचाल आ गया है। जिले में छह विधानसभाओं की सीटों में एकमात्र पुरवा विधानसभा की सीट बसपा के खाते मे जाने के बाद पुरवा की अहमियत बसपा के साथ साथ भाजपा के लिए भी हो गई थी। वहीं जिस तरह से बसपा विधायक ने ऐन वक्त पर पाला बदला है उससे उनके राजनीतिक कैरियर में भी प्रश्नचिंह लग गए हैं।
पुरवा विधानसभा क्षेत्र के बहुजन समाज पार्टी के विधायक अनिल सिंह खुलकर भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में खड़े हो गए हैं। मतलब साफ है कि अब वे क्रॉस वोटिंग न करके बल्कि खुलकर बीजेपी के राज्यसभा कैंडीडेट के लिए वोटिंग करेंगे।

बसपा विधायक अनिल सिंह ने बदला पाला
बसपा विधायक अनिल सिंह ने इसी क्रम में गुरुवार को बसपा की बैठक का बहिष्कार कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ हुई बैठक में शामिल हुए और अपनी स्थिति स्पष्ट की। वहीं बसपा विधायक के पाला बदलने के बाद अंदर ही अंदर चर्चा इस बात की भी जोरों पर है कि राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग भी जमकर होगी। हालांकि विधायक अनिल सिंह के भारतीय जनता पार्टी के साथ खड़े होने के फैसले के बाद ये साफ हो गया है कि वे अब खुलकर बीजेपी कैंडीडेट को अपना वोट देंगे।
बताते चले बहुजन समाज पार्टी के विधायक अनिल सिंह ने विगत विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी को लगभग 26000 मतों से हराया था। जबकि समाजवादी पार्टी के विधायक उदयराज को लगभग 29000 मतों से हराकर विधानसभा तक की यात्रा की थी। इसके पहले अनिल सिंह ने कभी किसी भी प्रकार का कोई भी चुनाव नहीं लड़ा था और न ही उनके परिवार में कहीं कोई नजदीक का राजनीतिक संबंध था। माही संस्था के संस्थापक अध्यक्ष अनिल सिंह का समाज सेवा में अपना एक बड़ा नाम है। उन्होंने विगत ठंड के मौसम में लगभग 80 कैंप लगाए थे। जिसके माध्यम से उन्होंने गराबों को हजारों कंबल बांटे थे। यह शिविर विधानसभा के लगभग 13 सौ गांव के बीच आयोजित किए गए थे।