Ad

ads ads

Breaking News

यूपी का पहले रेलवे स्टेशन की कमान पूरी तरह से हुई महिलाओं के हाथ

फीता काटते हुए महिला कर्मी
कानपुर। कानपुर का गोविंदपुरी रेलवे स्टेशन उत्तर प्रदेश का पहला रेलवे स्टेशन बन गया है, जहां की कमान पूरी तरह से महिलाओं के हाथ होगी। गुरुवार को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर उत्तर मध्य रेलवे के डीआरएम ने रेलवे स्टेशन को महिलाओं के हाथों सौंपा। एक साल पहले मुंबई के माटुंगा रेलवे स्टेशन का संचालन महिलाओं को दिया गया था। प्रयोग सफल रहने पर उत्तर मध्य रेलवे ने कानपुर के गोविंदपुरी रेलवे स्टेशन को चुना।गुरुवार को डीआरएम संजय कुमार पंकज ने एक समारोह में ऑल वूमेंस रेलवे स्टेशन के तौर पर गोविंदपुरी की कमान महिलाओं को सौंपी।

वीआइपी की जगह लेडी कल्चर 
आमतौर पर ऐसे आयोजनों में वीआइपी कल्चर हावी रहता है लेकिन, डीआरएम ने दीप प्रज्ज्वलन, नारियल फोडऩे से लेकर फीता काटने तक सभी आयोजन स्टेशन में तैनात महिलाओं के हाथों से ही कराए। स्टेशन डायरेक्टर डॉ. जितेंद्र कुमार ने बताया कि अब से गोविंदपुरी स्टेशन पर ट्रेनों के संचालन, टिकटों के वितरण, टिकटों के आरक्षण व सुरक्षा जैसी सभी अहम जिम्मेदारियां महिलाएं ही वहन करेंगी। इंजीनियरिंग सेक्शन में भी महिलाएं ही होंगी। फिलहाल 26 महिलाओं का स्टॉफ तैनात किया गया है, जिसे आने वाले दिनों में बढ़ाने की योजना है। उन्होंने बताया, गोविंदपुरी में अभी जीआरपी की चौकी है लेकिन अब यहां जीआरपी व आरपीएफ के थाने खोले जाएंगे। आरपीएफ ने स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे लगा दिए हैं और निगरानी शुरू हो गई है।

No comments