Ad

ads ads

Breaking News

करीब एक वर्ष के बाद भी गिरफ्त से दूर हैं हत्यारे

मृतक सुनील फ़ाइल फोटो
औरैया। शहर कोतवाली क्षेत्र के गांव सुरान में बाजरा के खेत में गत वर्ष 17 अगस्त को युवक का शव मिला था। उसकी शिनाख्त जालौन कोतवाली उरई के राजेंद्र नगर निवासी सुनील पुत्र स्व. राजकुमार के रूप में की गई थी। तब से पुलिस उसके हत्यारोपियों की तलाश में है। लेकिन उनका अभी तक पता नहीं चल सका है। बुधवार को सुनील की मां ने कोतवाली पहुंच कर पुलिस से कहा कि साहब बेटे के हत्यारों का कुछ पता चला क्या। जवाब मिला प्रयास जारी है।
जालौन के महिला संगठन की जिला उपाध्यक्ष अमृत कुमारी के साथ शहर कोतवाली पहुंची सुनील की मां रामवती का पहला सवाल कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मदन गोपाल गुप्ता से यही था कि साहब बेटे के हत्यारों का पता चला। कोतवाल ने कहा कि प्रयास किया जा रहा है। इसके बाद रामवती ने कोतवाल को बताया कि उनका बेटा पिछले कई दिनों से घर नहीं आया था। वह कहीं बाहर रहकर पेंटिंग का काम करता था। उसने फोन से भी कोई संपर्क नहीं किया था। बताया कि उसके बेटे को उरई के ही कुछ लोगों ने उधार रुपये दिये थे। वह लोग उसके संपर्क में थे। उसने पुलिस को कुछ नाम भी नोट कराए और बताया भी कि यदि इन लोगों को पकड़ लिया जाए तो पता चल सकता है। उसने कुछ लोगों की ओर इशारा करते हुए आशंका भी व्यक्त की है कि यही लोग हत्यारे हो सकते हैं। कोतवाल ने रामवती को जल्द ही हत्यारोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। इसके बाद रामवती सुरान गांव भी गईं। उन्होंने अपने बेटे की फोटो दिखाकर कई लोगों से पूछताछ भी की। रामवती ने बताया कि उनके बेटे का संबंध इस गांव के भी किसी व्यक्ति से था, जिसकी बाइक पर बैठकर वह यहां आया था। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मदन गोपाल गुप्ता ने बताया कि इस मामले में कुछ अहम सुराग लगे हैं। हत्यारोपियों की तलाश की जा रही है।

No comments