Ad

ads ads

Breaking News

संयुक्त राष्ट्र तक पहुंचा बिहार और मध्य प्रदेश में हुई पत्रकारों की मौतका मामला

DESK - यूएन चीफ एंटोनियो गुटेरेज ने भारत में पत्रकारों की मौत और दुनिया में मीडिया से जुड़े लोगों के साथ होने वाली घटना पर चिंता जताई है। गुटेरेज के डिप्टी प्रवक्ता फरहान हक ने एक बयान में कहा  कि हम हर उस चीज के लिए चिंतित हैं जो कि दुनिया के किसी भी हिस्से में पत्रकारों के शोषण या उनके खिलाफ हिंसा की तरफ इशारा करता है और इस मामले में भी यही करेंगे। फरहान हक ने यह बात अपनी डेली प्रेस ब्रिफिंग में भारत में दो पत्रकारों की हत्या को लेकर पूछे गए सवाल पर कही।
बता दें कि बिहार में एक हिंदी डेली के पत्रकार नवीन के अलावा मध्य प्रदेश के भिंड में एक अन्य पत्रकार संदीप शर्मा की हत्या कर दी गई थी। जहां संदीप ने हत्या के पहले इस तरह की घटना की आशंका जताई थी वहीं बिहार में नवीन के परिजनों ने आरोप लगाया था कि पूर्व ग्राम प्रमुख का इसमें हाथ है।
दुनिया में पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर बनी कमेटी सीपीजे ने इन हत्याओं की निंदा की है और इसके पीछे के उद्देश्यों की जांच कर दोषियों को सजा देने की मांग की है। संदीप शर्मा के सहयोगी विकास ने सीपीजे को बताया कि हादसे के बाद वो संदीप को अस्पताल लेकर पहुंचा जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। विकास ने बताया कि संदीप द्वारा अवैध रेत खनन पर खबरें किए जाने के बाद से ही उसे लगातार धमकी भरे कॉल आ रहे थे। वाशिंगटन में सीपीजे एशिया प्रोग्राम के को.ऑर्डिनेटर स्टीवन बटलर ने कहा कि संदीप शर्मा के मामले में अधिकारी पूरे मामले की गहराई से जांच करें और पता करें कि क्या उन्हें उनके काम की वजह से निशाने पर लिया गया। संभव है कि यह दुखद घटना इस वजह से हुई क्योंकि स्थानीय अधिकारियों द्वारा धमकियां मिलने के बावजूद संदीप को सुरक्षा ना दिए जाने के चलते हुई।