Ad

ads ads

Breaking News

मुख्यमंत्री के आवास पर आसरा मांगने गई महिला को मिली सड़क हादसे में मौत


उन्नाव प्रदेश के मुख्यमंत्री की दहलीज में जाकर अपने लिए आसरा मांगने गई महिला कि सड़क हादसे में दर्दनाक मौत हो गई जबकि बाइक चला रहे युवक अन्य महिला गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे के बाद हाइवे पर वाहनों की रफ्तार थम गई। राहगीरों की सूचना पर पुलिस ने एंबुलेंस के जरिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां चिकित्सकों ने उनकी हालत गंभीर दे इलाज शुरू कर दिया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार आशा 30 पत्नी राजेश निवासी उमरपुर बांगरमऊ के पति राजेश शहर के बस स्टेशन के सामने फलों का ठेला लगाते हैं ।
इसी के चलते दंपति गांव से निकलकर शहर के काशीराम कॉलोनी के किसी दूसरे के नाम से एलाट आवास पर रहने लगा। इसी दौरान कांशीराम शहरी आवास योजना के मकान निवासी ने उनसे कहा कि वे प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से  मिलकर एक कॉलोनी अपने नाम इलाज करा लें, जिस परआशा ने भांजे सुनील पुत्र प्रभु निवासी धर्मपुर तकिया थाना कुरसठ हरदोई जो कि काशीराम शहरी आवास कॉलोनी में दूसरे के नाम से एलाट कॉलोनी में रह रहा था। दोनों परिवारों ने निश्चय किया कि योगी आदित्यनाथ से मिलकर अलग अलग कॉलोनी इलाज करा कर रहने लगे इसी को लेकर आशा, सुनील  सुनीता पत्नी सुनील सुबह लखनऊ की ओर चल पड़े जहां पहुंचकर उन्होंने मुख्यमंत्री से मिलकरकॉलोनी लिए प्रार्थना पत्र दिया तथा वहां से वापस आ रहे थे। इसी दौरान दही चौकी के इंदारगो फैक्ट्री के पास अवैध कट से आ रहे ट्रक ने उनकी बाइक पर टक्कर मार दी। जिससे तीनों सड़क पर जा गिरे। इस दौरान आशा की मौके पर ही मृत्यु हो गई तथा सुनीता व सुनील गंभीर रूप से घायल हो गए । राहगीरों की सूचना पर पुलिस ने उन्हें जिला अस्पताल भेज दिया। जहां चिकित्सकों ने उनकी हालत नाजुक देखकर भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया जँहा उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।